Wednesday, May 18, 2022

ख़बर

पहली बरसी पर स्मृति सभा आयोजित कर कामरेड उषा शर्मा को याद किया गया 

भागलपुर। ऐपवा की जिला अध्यक्ष व भाकपा-माले की नगर कमिटी सदस्य रहीं कामरेड उषा शर्मा की प्रथम बरसी पर  23 अप्रैल को स्थानीय पेंशनर समाज भवन में स्मृति सभा का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत, सभा कक्ष में मौजूद...

जनमत

भारतीय लोकतंत्र का पुलिस राज्य में रुपांतरण

जयप्रकाश नारायण  बरपेटा के जुडिशल मजिस्ट्रेट ए चक्रवर्ती  ने जिग्नेश मेवानी के मामले में  कहा कि हमने बहुत कठिन संघर्ष के बाद लोकतंत्र हासिल किया...

ग्राउन्ड रिपोर्ट

मल्टीमीडिया

साहित्य-संस्कृति

हम सभी के घर में गणित के जादूगर हैं: ऊषा दशोरा की कविताएँ

अरुण शीतांश स्त्री जीवन की विडंबनाओं पर बहुत सारी कविताएँ हमने पढ़ी हैं और उनके माध्यम से उस जीवन की तमाम कही अनकही जटिलताओं से...

लघु पत्रिका आंदोलन : कुछ बातें

हम जब भी लघु पत्रिकाओं पर विचार करते हैं तो वर्तमान में मीडिया और पत्रकारिता की भूमिका हमारे सामने होती है। यह बताने की...

समर न जीते कोय-13

(समकालीन जनमत की प्रबन्ध संपादक और जन संस्कृति मंच, उत्तर प्रदेश की वरिष्ठ उपाध्यक्ष मीना राय का जीवन लम्बे समय तक विविध साहित्यिक, सांस्कृतिक,...

समकालीन चित्रकला को उसकी कहानियों और बनावटी संदर्भों से मुक्त कराना होगा : अशोक भौमिक

नई दिल्ली। साहित्य अकादमी नई दिल्ली में सात मई को जाने माने चित्रकार, कला समीक्षक अशोक भौमिक की पुस्तक "भारतीय चित्रकला का सच" का...

1857 की जंग-ए-आज़ादी में हिन्दू-मुस्लमान-सिख साझी क़ुर्बानियों की हैरत-अंगेज़ अनकही दास्तानें

शम्सुल इस्लाम साझी विरासत जिसका हिन्दुत्वादी टोली मटियामेट करने में लगी है 10 मई 1857, दिन रविवार को छिड़े भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में देश...

1857 फ़ौजी बग़ावत या मुक्ति संग्राम

शम्सुल इस्लाम भारत के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम की शुरूआत 25 फरवरी 1857 को उस समय हुई थी, जब बंगाल के बरहमपुर में ईस्ट इण्डिया कम्पनी...

भारतीय लोकतंत्र का पुलिस राज्य में रुपांतरण

जयप्रकाश नारायण  बरपेटा के जुडिशल मजिस्ट्रेट ए चक्रवर्ती  ने जिग्नेश मेवानी के मामले में  कहा कि हमने बहुत कठिन संघर्ष के बाद लोकतंत्र हासिल किया...

सुजाता गुप्ता की कविताएँ समाज की कुरूप सच्चाइयों से उपजी अकुलाहट हैं।

सौम्या सुमन कवि केदारनाथ सिंह ने कहा है कि कविता के पास अपना विचार होना चाहिए और जीवन जगत के बारे में उसका विचार जितना...

भारत जो एक जीवन-वृक्ष था उसे बड़ी बेरहमी से धराशायी किया जा रहा है

सबा नक़वी आज की तारीख में पूरे भारत में विभिन्न स्थानों पर सघन हिन्दुत्व की लामबंदी क्यों की जा रही है? क्या हमने अचानक अपने...

धूप की दीवार : मोर दैन अ रिव्यू   

कुछ समय हुआ मुझे ज़ी फाइव ओटीटी प्लेटफार्म पर पाकिस्तानी सीरीज़ 'धूप की दीवार' देखे हुए और इस सीरीज़ के हर एपिसोड के साथ...

संध्या नवोदिता की कविताओं में जिजीविषा और यथार्थ की कड़वाहट के स्वर प्रमुख हैं

निरंजन श्रोत्रिय युवा कवयित्री संध्या नवोदिता की ये कविताएँ थिर तापमान की हैं। उनकी कविताओं में अमूर्तता, रागात्मकता, राजनीतिक चेतना और जनसंघर्ष के स्वर स्पष्ट...

भारतीय समाज की विविधता के बारीक तंतुओं पर पर टिका लोकतंत्र ही बड़ी प्रतिरोधी ताकत है

जयप्रकाश नारायण  गुजरात के बड़गांम के विधायक जिग्नेश मेवानी को यह पता नहीं था, कि कोई प्रशिक्षित दस्ता उनके दरवाजे पर रात्रि के 11:30 बजे...

उर्दू पत्रकारिता में इंसानियत का दायरा बड़ा होना चाहिए

(इस आलेख का विचार शफ़ी किदवई के एक आलेख से ग्रहण किया गया है। शफ़ी किदवई का यह आलेख ‘उर्दू का लोकवृत्त’ (The Urdu...

समर न जीते कोय-12

(समकालीन जनमत की प्रबन्ध संपादक और जन संस्कृति मंच, उत्तर प्रदेश की वरिष्ठ उपाध्यक्ष मीना राय का जीवन लम्बे समय तक विविध साहित्यिक, सांस्कृतिक,...

जनमुक्ति के संघर्ष व स्वप्न का कवि विजेन्द्र

स्मृति दिवस 29 अप्रैल   पिछले साल आज के दिन 29 अप्रैल को हमने अपना अग्रज साथी, सहयोद्धा, लोकधर्मी कवि और साहित्य चिन्तक विजेन्द्र को खो...
हम जब भी लघु पत्रिकाओं पर विचार करते हैं तो वर्तमान में मीडिया और पत्रकारिता की भूमिका हमारे सामने होती है। यह बताने की...
जयप्रकाश नारायण  बरपेटा के जुडिशल मजिस्ट्रेट ए चक्रवर्ती  ने जिग्नेश मेवानी के मामले में  कहा कि हमने बहुत कठिन संघर्ष के बाद लोकतंत्र हासिल किया...
सबा नक़वी आज की तारीख में पूरे भारत में विभिन्न स्थानों पर सघन हिन्दुत्व की लामबंदी क्यों की जा रही है? क्या हमने अचानक अपने...
जयप्रकाश नारायण  गुजरात के बड़गांम के विधायक जिग्नेश मेवानी को यह पता नहीं था, कि कोई प्रशिक्षित दस्ता उनके दरवाजे पर रात्रि के 11:30 बजे...
अल्‍पसंख्‍यकों के बारे में गलतफहमियां फैलाना और उनके खिलाफ नफरत भड़काना साम्‍प्रदायिक राष्‍ट्रवाद का पुराना और आजमाया हुआ हथियार है. हमारे देश में यह...
सरकारी कर्मचारियों की पुरानी पेंशन व्यवस्था का जिन्न फिर जिन्दा हो गया है. राजस्थान और फिर छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकारों ने सरकारी कर्मचारियों की...