Category : देसवा

देसवा

…वो तीसरी मुलाकात

(पत्रकार मनोज कुमार के साप्ताहिक कॉलम ‘देसवा ‘ की  तीसरी क़िस्त ) नौ वर्ष पहले नवम्बर 2011 में कुशीनगर के नाहर छपरा गांव जाना हुआ....
देसवा

‘ हमरो बाबू असो चल गईल ’

( पत्रकार मनोज कुमार के साप्ताहिक कॉलम ‘देसवा ‘ की  दूसरी क़िस्त  ) ‘असो हमहूं चल जाइब’ जब मैं संतकबीर नगर जिले के मेंहदावल ब्लाक...
देसवा

पूरब ही देसवा में फूटली किरनिया, होला सुहावन बिहान रे……..

(आज से समकालीन जनमत में  ‘ देसवा ‘ नाम से पत्रकार मनोज कुमार का साप्ताहिक कॉलम शुरू हो रहा है. प्रस्तुत है इसकी पहली क़िस्त...