समकालीन जनमत

Tag : Farmer movement

जनमत

टीवी की बहसों को तोड़-मरोड़ कर किसानों के खिलाफ़ ज़हर उगला जा रहा है

समकालीन जनमत
किसानों के खिलाफ वैमनस्य के बीज इसी प्रकार जानबूझकर बोये जाते हैं। मध्यवर्ग के एक बड़े समूह में किसानों के प्रति तिरस्कार और नाराजगी गलत...
ग्राउन्ड रिपोर्ट

लखीमपुर किसान नरसंहार –किसान आंदोलन से निपटने का सत्ता संरक्षित नया क्रूर फार्मूला

सरकार द्वारा लखीमपुर, पीलीभीत, शाहजहांपुर जिलों की इंटरनेट सेवा बंद कर देने के कारण मैं तीन दिन बाद लखीमपुर खीरी दौरे की तस्वीरें साझा कर...
ख़बर

किसान आंदोलन को जीत की मंजिल तक पहुंचाना इस दौर का मुख्य उद्देश्य : दीपंकर भट्टाचार्य

समकालीन जनमत
राज्य सम्मेलन पहले दिन लखीमपुर खीरी में हुई किसानों की हत्या के खिलाफ सामूहिक उपवास में बदला लखनऊ। भाकपा (माले) का तीन दिवसीय 13 वां...
ख़बर

उत्तर प्रदेश के किसान संगठन हुए एकताबद्ध, नौ अगस्त को घोसी में किसान रैली होगी 

लखनऊ। बुधवार को लखनऊ में उत्तर प्रदेश के आंदोलनरत किसान संगठनों ने किसान आंदोलन में आपसी समन्वय स्थापित करने के लिए एक बैठक की। बैठक...
ज़ेर-ए-बहस

किसान आंदोलन और लोकतंत्र

गोपाल प्रधान
सिद्ध है कि किसान आंदोलन का सवाल अब केवल खेती के लाभकर होने से ही जुड़ा नहीं रह गया है। इसकी सफलता पर लोकतंत्र और...
ख़बर

सहजानंद इतिहास के सबसे बड़े किसान नेता, हम उनकी विरासत को आगे बढ़ा रहे : दीपंकर भट्टाचार्य

समकालीन जनमत
आजादी की लड़ाई के दौरान जमींदारी प्रथा के खिलाफ किसानों को संगठित करने वाले महान किसान नेता स्वामी सहजानंद सरस्वती की जयंती पर 11 मार्च...
ख़बर

बिहार में किसान आंदोलन को तेज करेगी भाकपा माले, 6 फरवरी को सभी प्रखंडों में निकलेगा मार्च

पटना। भाकपा-माले की राज्य स्थायी समिति की एकदिवसीय बैठक 2 फरवरी को राज्य कार्यालय में हुई। बैठक में बिहार में किसान आंदोलन को नई ऊंचाई...
ग्राउन्ड रिपोर्ट

दिल्ली की सीमा पर इतिहास रचता किसान आंदोलन

ओंकार सिंह
( सिंघू, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों के बीच पाँच दिन रह कर लौटे गोरखपुर के पत्रकार ओंकार सिंह की डायरी ) दिल्ली से...
जनमत

किसान आंदोलन को मिली नई ऊर्जा व नई धार

पुरुषोत्तम शर्मा
किसान आंदोलन के दमन के लिए सत्ता की साजिशों पर किसान नेता राकेश टिकैत का पलटवार भारी पड़ा है। राकेश टिकैत की 28 जनवरी को...
चित्रकला

‘ आ रहा फावड़ा लिए समय का यह किसान , जो तुझे काटकर मुझे पाटकर भर देगा ’

समकालीन जनमत
तुम देखोगे सामने तुम्हारे आँखों के, खलता की खेती हरी तुम्हारी डूबेगी/आ रहा फावड़ा लिए समय का यह किसान, जो तुझे काटकर मुझे पाटकर भर...
Fearlessly expressing peoples opinion

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy