समकालीन जनमत
चित्रकला

‘ आ रहा फावड़ा लिए समय का यह किसान , जो तुझे काटकर मुझे पाटकर भर देगा ’

टिकरी बॉर्डर से किसान आंदोलन की कुछ तस्वीरें

 

(1)

 

( 2 )

( 3)

 

( 4  )

( 5 )

 

( 6 )

( 7)

 

( 8 )

( 9 )

 

(10 )

 

( काव्य पंक्ति -रामधार त्रिपाठी  ‘ जीवन  ‘ ।  चित्र -लेखक, अनुवादक एवं छायाकार  आमिर  के हैं । आमिर भारतीय भाषा केंद्र, जेएनयू, नई दिल्ली में अध्ययनरत। सम्पर्क : [email protected] )

Related posts

Fearlessly expressing peoples opinion

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy