Author : समकालीन जनमत

715 Posts - 1 Comments
साहित्य-संस्कृति

‘जनता का अर्थशास्त्र ’ एक जरूरी किताब – प्रो रमेश दीक्षित

लखनऊ। आवारा पूंजी साम्राज्यवादी पूंजी का नया चेहरा है। वह राजनीति पर कब्जा जमाती है, उसे अपना गुलाम बनाती है। वह जिस अर्थशास्त्र को निर्मित...
पुस्तक साहित्य-संस्कृति

अवधेश त्रिपाठी की पुस्तक ‘कविता का लोकतंत्र’ पर परिचर्चा

समकालीन जनमत
अनुपम सिंह जन संस्कृति मंच की घरेलू गोष्ठी में अवधेश त्रिपाठी की पुस्तक “कविता का लोकतंत्र” पर परिचर्चा संपन्न हुई . यह परिचर्चा दिनांक 21...
नाटक साहित्य-संस्कृति

ट्रॉल्स के महाजाल को भेदता है राजेश कुमार का नाटक ‘ खेल खतम ’

लखनऊ। राजेश कुमार राजनीतिक और ज्वलन्त विषयों पर अपने नाटक के लिए ख्यात है। उनका नया नाटक है ‘खेल खतम’। इस नाटक का पाठ उन्होंने...
जनमत दुनिया

क्या Aramco पर हमला यूएस-सऊदी रिश्ते में दरार पैदा करेगा ?

एम. के. भद्रकुमार न्यूयॉर्क स्थित काउंसिल ऑफ़ फॉरेन रिलेशंस जिसने 2020 में होने जा रहे चुनाव में राष्ट्रपति ट्रम्प का विरोध करने वाले डेमोक्रेटिक राष्ट्रपति...
ख़बर

एनआरसी के ज़रिए नागरिकों पर निशाना साध रही है सियासत -पूर्व न्यायधीश बीडी नक़़वी

बाटला हाउस फर्जी मुठभेड़ की ग्यारवीं बरसी पर संवैधानिक अधिकारों पर बढ़ते हमलों के खिलाफ रिहाई मंच ने लखनऊ में किया सेमिनार लखनऊ. बाटला हाउस...
साहित्य-संस्कृति

तश्ना आलमी की शायरी में श्रम का सौंदर्य – कौशल किशोर

तश्ना आलमी की याद में लखनऊ में हुआ कार्यक्रम लखनऊ। तश्ना आलमी की शायरी प्रेम, संघर्ष व श्रम से मिलकर बनी है। इसमें श्रम का...
ख़बर

‘ योगी राज में कुशीनगर जिले में कुपोषण जनित बीमारियों से हो रही मुसहर गरीबों की अकाल मौतें ’

समकालीन जनमत
भाकपा-माले ने जारी की जाँच रिपोर्ट, 25 व 30 सितंबर को गोरखपुर मंडल की विभिन्न तहसीलों पर मुसहरों की कुपोषण व भुखमरी से हो रही...
चित्रकला शख्सियत

एम एफ हुसैन की कला में मुक्ति, संघर्ष और प्रगतिशीलता प्रधान स्वर हैं

समकालीन जनमत
(17 सितम्बर जाने माने चित्रकार, पद्म विभूषण से सम्मानित मकबूल फिदा हुसैन का जन्म दिन होता है । हुसैन साहब की याद में प्रस्तुत है...
ख़बर

जालौन में राष्ट्रपिता की प्रतिमा को तोड़ने वालों के खिलाफ़ लखनऊ में हुआ विरोध प्रदर्शन

लखनऊ. जालौन में महात्मा गांधी की प्रतिमा को तोड़ने वालों को गिरफ़्तार कर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग करते हुए राजधानी लखनऊ में...
जनभाषा शिक्षा

राजभाषा का उद्देश्य जनता के कल्याण में निहित होना चाहिए

समकालीन जनमत
अम्बरीश त्रिपाठी ऐतिहासिक भूलों को भूल जाने में आम भारतीयों का कोई सानी नहीं है। उपनिवेश बनने की कहानी को कितनी जल्दी और आसानी से...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy