खबर

उत्तर प्रदेश में भी यंग इंडिया ने किया ‘दिल्ली चलो’ का आह्वान

लखनऊ में हुई यंग इंडिया कोर्डिनेशन कमेटी की बैठक

लखनऊ. पूरे देश भर में 100 से ज्यादा छात्र संगठनों और छात्रसंघों के संयुक्त मंच यंग इंडिया नेशनल कोर्डिनेशन कमेटी (वाईआईएनसीसी) द्वारा चलाये जा रहे “यंग इंडिया अगेंस्ट सीएए-एनआरसी-एनपीआर” अभियान के तहत 3 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में होने वाली विशाल सभा में बड़ी संख्या में भागीदारी करने के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए 20 फ़रवरी को लखनऊ में भी विभिन्न छात्र-युवा संगठनों के नेताओं ने बैठक की।

लालकुआं स्थित आइसा कार्यालय में हुई बैठक में पूरे प्रदेश से आये हुए विभिन्न संगठनों के नेताओं ने 3000 लोगों की गोलबंदी का ऐलान किया।

गौरतलब है कि पूरे देश के छात्र युवा जनविरोधी नागरिकता कानून और एनपीआर-एनआरसी के विरोध में 3 मार्च को दिल्ली के रामलीला मैदान में बड़ी सभा करने जा रहे हैं। इसी सिलसिले में आज लखनऊ में विभिन्न संगठनों के नेता मौजूद थे।

बैठक के बाद हुई प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए आइसा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एन. साईं बालाजी ने कहा कि, “जब आज पूरे देश की जनता भाजपा सरकार के ‘सीएए-एनआरसी-एनपीआर’ जैसे जनविरोधी कदम के विरोध में खड़ी है, जगह जगह शाहीनबाग़ बन रहे हैं, ऐसे में देश के छात्र-युवाओं को भी उनके कंधे से कंधा मिला कर खड़े होने की जरूरत है। इसी को ध्यान में रखते हुए 100 से ज्यादा संगठनों ने ये निर्णय लिया है कि 3 मार्च को दिल्ली का रामलीला मैदान इस जनविरोधी सरकार के जनविरोधी कदमों के व्यापक विरोध का गवाह बनेगा।”

बैठक में सर्वसम्मति से ये निर्णय लिया गया कि पूरे प्रदेश से 3000 लोग “दिल्ली चलो” के नारे के साथ प्रचार अभियान चलाएंगे तथा बड़ी संख्या में दिल्ली की ओर कूच करेंगे।

बैठक में आइसा के प्रदेश अध्यक्ष शैलेश पासवान, प्रदेश सचिव शिवा रजवार, एनएसयूआई से लालू कनौजिया, एसएफआई के प्रदेश सचिव विकास स्वरूप, एआईएसएफ के संयुक्त सचिव उदयभान यादव, सीवाईएसएस के राज्य मीडिया प्रभारी आयुष सिंह चौहान, एमआईएम के राज्य सचिव ज़ीशान हक़, इनौस  के राज्य संयुक्त सचिव राजीव यादव, एक्टिविस्ट ज्योति राय आदि शामिल रहे।

Related posts

‘हम देखेंगे’: सृजन एवं विचार के हक़ में

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के खिलाफ पूरे देश में विरोध प्रदर्शन

समकालीन जनमत

लोकतंत्र और संविधान को बचाना आज के भारत की सबसे बड़ी जरूरत है

रवि भूषण

उमर खालिद पर हुए हमले से उठते सवाल

समकालीन जनमत

‘ मोदी सरकार ने युवा भारत को बेरोजगार भारत बनाया, लोकसभा चुनाव में जवाब देंगे युवा ’

समकालीन जनमत

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.