प्रेमचंद की कहानी ‘बूढ़ी काकी’ का पाठ : जश्न-ए-प्रेमचंद में बच्चों की भागीदारी

कहानी

31 जुलाई को प्रेमचंद की 140वीं जयंती के अवसर पर समकालीन जनमत 30-31 जुलाई ‘जश्न-ए-प्रेमचंद’ का आयोजन कर रहा है।

इस अवसर पर समकालीन जनमत बच्चों की प्रतिभागिता को सुनिश्चित करते हुए उनके द्वारा प्रेमचंद की कुछ चुनिंदा कहानियों के पाठ की ऑडियो वीडियो प्रस्तुति जारी कर रहा है।

इस शृंखला में प्रस्तुत किये जाने वाले सभी वीडियो  समकालीन जनमत के विशेष अनुरोध पर उत्तराखंड में बच्चों के बीच काम कर रहे साथी नवेन्दु मठपाल और उनके मंच ‘जश्न-ए-बचपन’ के माध्यम से उपलब्ध हुए हैं। इन वीडियो की ख़ास बात यह है कि ये  वीडियो बच्चों ने ख़ुद बनाये हैं।

इसी कड़ी में प्रस्तुत है कात्यायनी बिष्ट द्वारा प्रेमचंद की कहानी ‘बूढ़ी काकी’ का पाठ।  कात्यायनी नैनीताल के सेंट मेरी कॉन्वेंट में कक्षा 5 की छात्रा हैं.

Related posts

प्रेमचंद की कहानी ‘बड़े भाई साहब’ का पाठ: जश्न-ए-प्रेमचंद में बच्चों की भागीदारी

समकालीन जनमत

प्रेमचंद ! अब सब कहते हैं ईमान के डर से जान थोड़ी गवायेंगे!

समकालीन जनमत

प्रेमचंद की कहानी ‘ईदगाह’ का ‘जश्न-ए-बचपन’ समूह के बच्चों ने किया मंचन

1936 में ‘साहित्य का उद्देश्य’ शीर्षक से प्रेमचंद द्वारा दिए गए ऐतिहासिक भाषण की ऑडियो वीडियो प्रस्तुति

समकालीन जनमत

मेरे जीवन में प्रेमचंद: शेखर जोशी

समकालीन जनमत