Image default
ख़बर

हाथरस, बलरामपुर में महिलाओं पर अत्याचार के खिलाफ वाम दलों को पूरे प्रदेश में धरना-प्रदर्शन

लखनऊ। हाथरस, बलरामपुर सहित पूरे प्रदेश में महिलाओं के साथ बलात्कार, हत्या, हिंसा की की घटनाओं के विरोध में वाम दलों ने आज पूरे प्रदेश में प्रदर्शन किया और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से इस्तीफा मांगा।

लखनऊ में धरना-प्रदर्शन के दौरान माकपा के राज्य सचिव हीरालाल, माले के राज्य कमेटी के सदस्य रमेश सेंगर, आरएस मौर्य, एडवा नेता मधु गर्ग, एपवा नेता मंजू, इंकलाबी नौजवान सभा के राजीव कुमार, एक्टू के मधूसूदन, सीटू के रवि मिश्रा आदि को पुलिस ने गिरफतार कर इको गार्डन भेज दिया।

वाम नेताओं ने धरना-प्रदर्शन के दौरान कहा कि हाथरस गैंगरेप मामले में योगी सरकार ने पहले दुराचारियों का संरक्षण किया और पीड़िता की मौत हो जाने पर परिजनों की मांग के बावजूद लाश न देकर रातों-रात पुलिस द्वारा जबरिया दाह-संस्कार करा दिया। महिला हिंसा पर घड़ियाली आंसू बहाने वाले मुख्यमंत्री योगी की यह पीड़ित दलित परिवार के प्रति अन्याय की पराकाष्ठा है। सरकार सच को छुपाना चाहती है। इससे दलितों और महिलाओं के प्रति योगी सरकार का असली नजरिया एक बार फिर बेनकाब हुआ है।

दो अक्टूबर को इलाहाबाद, लखनउ, देवरिया, गोरखपुर, वाराणसी, आजमगढ़, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, मथुरा, गाजीपुर, जालौन, रायबरेली, पीलीभीत, बलिया, चंदौली, मिर्जापुर, सोनभद्र,अयोध्या, मुरादाबाद आदि जिलों में प्रदर्शन हुए।

विरोध प्रदर्शन की तस्वीरें –

( 1  )

 

 

( 2 )

 

( 3  )

 

( 4  )

( 5 )

( 6  )

( 7  )

 

( 8  )

 

( 9  )

 

( 10  )

( 11  )

 

 

( 12 )

 

( 13  )

 

( 14 )

 

Related posts

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy