Wednesday, August 17, 2022
Homeस्मृतिगरीबों, मजदूरों के अगुवा नेता थे कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री -रामजी राय

गरीबों, मजदूरों के अगुवा नेता थे कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री -रामजी राय

पीलीभीत। पूरनपुर के पंचम दास इंटर कालेज में भाकपा माले द्वारा आयोजित कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री की श्रद्धांजलि सभा में भाकपा माले और विभिन्न धाराओं से जुड़ी हस्तियों ने उन्हें याद किया।

तराई में किसान आंदोलन के स्तम्भ, पीलीभीत में लंबे समय से भाकपा माले के जिला कमेटी सदस्य,अखिल भारतीय किसान महासभा के राज्य काउंसिल के सदस्य और लोकप्रिय कम्युनिस्ट नेता कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री का इलाज के दौरान 22 मई को लखनऊ में निधन हो गया हो गया था। वह 89 साल के थे। मार्च के महीने में उन्हें ब्रेन स्ट्रोक हुआ था जिसके बाद उन्हें लखनऊ मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया जहाँ वह लगभग 70 दिन भर्ती रहे लेकिन तमाम प्रयासों के बावजूद उनको बचाया नहीं जा सका था।

 

श्रद्धांजलि सभा को संबोधित करते हुए भाकपा माले के पोलित ब्यूरो सदस्य कामरेड रामजी राय ने कहा कि कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री एक जुझारू, संघर्षशील और कर्मठ कम्युनिस्ट नेता थे जिनका जाना न केवल वामपंथी धारा बल्कि पूरे समाज की क्षति है।छात्र जीवन मे वह जरूर समाजवादी विचारो से प्रभावित थे लेकिन गरीबो मजदूरों की लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए उन्होंने भाकपा माले को चुना था क्योंकि भाकपा माले ही सच्चे मायनों में गरीबों मजदूरों की पार्टी है।

 

श्रद्धांजलि सभा को सबोधित करती कॉमरेड कृष्णा अधिकारी, रामजी राय और सुधाकर यादव

सभा को सम्बोधित करते हुए भाकपा माले के राज्य सचिव कामरेड सुधाकर यादव ने कहा कि कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री का जाना सम्पूर्ण वाम लोकतांत्रिक आंदोलन की क्षति है।कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री ने न केवल गरीबो मजदूरों का आंदोलन खड़ा किया बल्कि उनको संगठित भी किया।

 

सभा में कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री के साथ आंदोलनों के अनुभवों को साझा करते हुई भाकपा माले की केंद्रीय कमेटी सदस्य कामरेड कृष्णा अधिकारी ने कहा कि कामरेड अलाउद्दीन शास्त्री ने राहुल नगर मजदूर बस्ती से लेकर लग्गा भग्गा तक गरीबो को उजाड़ने के खिलाफ आंदोलन चलाया और इस दौरान प्रशासन ने उनके ऊपर दर्जनों आपराधिक मुकदमे लगाए लेकिन फर्जी आपराधिक मुकदमे भी उनके मौजूद इरादों को डिगा नहीं सका।

सभा को समाजवादी नेता हारून अहमद, पंचम दास इंटर कालेज के प्रधानाध्यापक दुर्वेश मिश्रा, वरिष्ठ अधिवक्ता अजय शम्स, देवीदयाल, मास्टर श्रीनाथ, अरविंद कुमार वर्मा, किशन लाल एडवोकेट, शम्स विकास ,सईद, बाबूराम,नरेश आदि ने संबोधित किया।
सभा का संचालन जिला सचिव कामरेड देवाशीष राय ने किया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments