देश के हर नागरिक पर 27,771 रुपए का कर्ज

नरेंद्र मोदी सरकार के तीन वर्ष के कार्यकाल में हर भारतीय नागरिक पर 5604 रुपए का कर्ज और चढ़ गया है। अब देश का हर नगारिक औसतन 27771 रुपए का कर्जदार है।
यह जानकारी ओबीसी आर्मी के अध्यक्ष कालीशंकर द्वारा आरटीआई से मांगी गई सूचना के जवाब में केन्द्र सरकार द्वारा दी गई जानकारी से मिली है। कालीशंकर गोरखपुर रहते हैं और ओबीसी जातियों को एक मंच पर लाने के अभियान से जुड़े हैं।
उनके आरटीआई आवेदन पर आर्थिक कार्य विभाग ने नौ फरवरी को जानकारी दी कि मार्च 2014 तक प्रत्येक भारतीय नागरिक पर औसतन 22167 रुपए का कर्जदार था। पिछले तीन वर्षो पर नागरिकों के सिर पर 20 फीसदी कर्ज और बढ़ गया और मार्च 2017 तक वह अब 27771 रुपए का कर्जदार हो गया है।
देश पर कुल देनदारियों के हिसाब से प्रत्येक नागरिक पर यह आंकड़ा आता है। भारत पर विदेशी कर्ज के बारे में आर्थिक कार्य विभाग की वर्ष 2016-17 की एक रिपोर्ट के मुताबिक मार्च 2017 तक भारत पर कुल विदेशी कर्ज 471.9 बिलियन यूएस डालर था।

 

 

Leave a Comment