खबर जनमत

उत्तराखंड के एक गाँव में स्कूली बच्चों के लिए ‘संगवारी’ ने की नाट्य कार्यशाला

21 और 22 सितम्बर के दौरान दिल्ली की सँगवारी थियेटर ग्रुप की दो सदस्यीय टीम उत्तराखण्ड , रामनगर के ढेला गाँव में वहाँ की सांस्कृतिक टीम उज्यावक दगड़ी को प्रशिक्षण देने के लिए मौजूद रही।

इस बार आगामी सप्ताह के मद्देनज़र सँगवारी ने 20 बच्चों की टीम को भगत सिंह और महात्मा गाँधी के लेखों और विचारों पर आधारित दो नाटक तैयार करवाये हैं।

इनमें से पहला नाटक जोकि भगत सिंह पर केंद्रित है, वह पूर्णतः  भगत सिंह द्वारा लिखे गए लेखों और पत्रों पर आधारित है। उज्यावक दगड़ी द्वारा इसका मंचन 28 सितम्बर यानी भगत सिंह की जयंती पर राजकीय इंटर कॉलेज ढेला में किया जाना है।

वहीं दूसरी तरफ़ महात्मा गाँधी के विचारों पर आधारित दूसरा नाटक भारत की विभिन्न समस्याओं को लेकर महात्मा गाँधी के लेखों से प्रेरित है। इसका मंचन गाँधी जयंती एंव अन्य अवसरों पर विभिन्न स्कूलों में किया जाना तय है।

Related posts

आज के समय में बेहद ज़रूरी नाटक है ‘ चम्पारण ने कहा है ’

समकालीन जनमत

‘ स्‍वच्‍छ भारत अभियान मोदी का एक और जुमला है ’

संगवारी ढ़ेला वर्कशॉप : बच्चों के साथ सार्थक थिएटर की शुरुआत

समकालीन जनमत

‘गाय’ नाटक का मंचन रोके जाने का कलाकारों ने किया विरोध

समकालीन जनमत

दीवार पत्रिका के साथ मेरा अनुभव

समकालीन जनमत

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.