समकालीन जनमत
ख़बर

टाटा इन्स्टीट्यूट ऑफ़ सोशल साइंसेज के गुवाहाटी कैम्पस में छात्रों का विरोध प्रदर्शन

टाटा इन्स्टीट्यूट ऑफ़ सोशल साइंसेज के गुवाहाटी कैम्पस में सब ठीक नहीं है । गई पी एम एस के छात्र और छात्राएँ 17जनवरी से लगातार कॉलेज प्रशासन के खिलाफ विरोध कर रहे हैं ।
इस विरोध का कारण छात्रों की फीस माफ न किया जाना है । यह विरोध पिछ्ले साल के विरोध का विस्तार माना जा रहा है । टाटा इन्स्टीट्यूट के छात्र और छात्राएँ सरकार की उस योजना को हटाने पर नाराज हैं , जिससे इन सभी छात्रों को पढ़ने के लिए स्कॉलरशिप मिलती है ।
पिछ्ले साल टाटा के छात्रों ने लगातार तीन महीने तक विरोध किया था । 22दिनों तक लगातार विरोध और तीन दिन की भूख हड़ताल । यह विरोध मानव संसाधन विकास मंत्रालय के हस्तक्षेप से रुका था । छात्रों से कहा गया कि वे अपना विरोध बन्द कर दें,इस संबंध में एक समिति का गठन किया जाएगा ।


इसमें यू जी सी,टाटा फैकल्टी के लोग और छात्र होंगे । इस कमेटी ने छात्रों को भरोसा दिया कि उनके हित में काम किया जाएगा लेकिन पिछ्ले दस महीनों से सिर्फ आश्वासन ही मिल रहा है ।
प्रशासन को इस संदर्भ में कई बार लिखा गया लेकिन कोई जवाब नहीं आया ।
छात्रों की माँग है कि इस परेशानी को खत्म करने के लिए नेशनल कमीशन फ़ॉर शिड्यूल ट्राइब रिकमंडेशन (25 जुलाई 2018) को लागू किया जाए ।
छात्रों का कहना है कि जब तक माँगें पूरी नहीं होंगी,विरोध जारी रहेगा ।

Related posts

Fearlessly expressing peoples opinion

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy