Friday, July 1, 2022
Homeख़बरसिवान की सड़कें तपती दोपहर में लाल हुईं

सिवान की सड़कें तपती दोपहर में लाल हुईं

सिवान. सिवान लोकसभा का आज प्रचार थमने के पहले सभी प्रमुख दलों ने शहर में शक्ति प्रदर्शन में अपनी ताकत झोंक दी। सुबह 10:00 बजे से जहां बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने रोड शो किया वहीं राजद प्रत्याशी हिना शहाब के पक्ष में आज खुद तेजस्वी यादव ने दोपहर 2:00 बजे के बाद बाबू राजेंद्र प्रसाद स्टेडियम में सभा की ।

भाकपा माले के प्रत्याशी अमरनाथ यादव ने के नेतृत्व में दिन 11:30 बजे से शहर में लगभग 7 किलोमीटर लंबा पैदल मार्च निकला।

राजद की सभा में शत्रुघ्न सिन्हा के आने का भी हल्ला था लेकिन वह नहीं आए। तेजस्वी यादव ने सभा की। जुमे की नमाज के बाद हुई सभा भी प्रभावशाली नहीं हो सकी। सुशील मोदी का रोड शो चंद गाड़ियों का काफिला 20- 30 मोटरसाइकिल के साथ था। उस समय विचित्र स्थिति हो गई जब उनका काफिला शहीद कामरेड चंद्रशेखर के स्टैच्यू के पास जहां से भाकपा माले का मार्च निकलना था, उसके बीच में फंस गया । थोड़ा सा तनातनी जैसा माहौल बना लेकिन माले कार्यकर्ताओं की समझदारी ने पूरी स्थिति संभाली और उनके काफिले को सुरक्षित बाहर निकाला।

भाकपा माले प्रत्याशी अमरनाथ यादव और अन्य नेताओं ने कॉमरेड चंद्रशेखर और डॉक्टर अंबेडकर की मूर्ति पर माल्यार्पण कर मार्च की शुरुआत की। तपती दोपहरी में आगे आगे खुली गाड़ी पर लोकसभा प्रत्याशी अमरनाथ यादव के साथ सिवान जिला सचिव कॉमेरेड नैमुउद्दीन अंसारी और भाकपा माले के पोलित ब्यूरो सदस्य धीरेंद्र झा चल रहे थे। उसके पीछे था हजारों की संख्या में उमड़ा लाल झंडों से सजा जनसैलाब. तीन घंटे तक पूरे शहर में कचहरी, जेपी चौक , बड़ी मस्जिद, रेलवे स्टेशन से होता हुआ यह मार्च घूमकर चंद्रशेखर चौक पर सभा में तब्दील हो गया।

इसके पहले लोग विभिन्न तरफ से अपने इलाके से मोटरसाइकिलों का काफिला लेकर अंबेडकर पार्क गोपालगंज मोड़ पहुंचे थे । सभा को संबोधित करते हुए अमरनाथ यादव ने कहा कि हमने उन्माद , उत्पात और जहरीले बोल की खेती सिवान में बंद करवा दी है। इसीलिए योगी जी अपने संगठन हिंदू युवा वाहिनी के नेता और अपराधी सरगना अजय सिंह की पत्नी सह प्रत्याशी कविता सिंह को टिकट दिलवा कर भी, अंतिम दिन उनके प्रचार के लिए आने की हिम्मत नहीं कर सके।

माले नेता धीरेंद्र झा ने कहा कि ऊपर से गठबंधन में जो गलती हुई है , उसे लोगों ने दो अपराधी सरगनाओं के खिलाफ अमन पसंद, सेकुलर, संविधान के रक्षक , जन सरोकारों के लिए संघर्ष करने वाले प्रतिनिधि के रूप में चौतरफा ध्रुवीकरण करते हुए उसमें सुधार कर दिया है ।

43 डिग्री से ऊपर कड़ी धूप में निकले इस विशाल मार्च को लोग सड़क और घरों की छत से देख रहे थे। शहर में चर्चाओं का बाजार गर्म है । 12 तारीख को सिवान के परिणाम को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं लेकिन भाकपा माले के इस लाल सैलाब ने लोगों को अचंभित कर रखा है और और वे भी इसकी तारीफ करते नजर आए जो अभी किसी पार्टी के पक्ष में खुलकर नहीं बोल रहे थे। इस जुलूस का और भाकपा माले के प्रत्याशी अमरनाथ यादव का लोग जगह जगह हाथ हिला कर छतों और घरों से स्वागत करते दिखे।

के के पांडेय
के. के. पाण्डेय समकालीन जनमत (प्रिंट) के संपादक हैं । Email: kkjanmat@gmail.com
RELATED ARTICLES

3 COMMENTS

Comments are closed.

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments