इंसेफेलाइटिस (एईएस /जेई) से चार महीनों में यूपी में 58 की मौत

  • 1
    Share

इंसेफेलाइटिस (एईएस /जेई) से इस वर्ष के चार महीनों में देश में 68 लोगों की मौत हो गई है जिसमें 58 यूपी के थे। देश के 22 राज्यों में सबसे अधिक यूपी और पश्चिम बंगाल में इंसेफेलाइटिस से मौतें हो रही हैं।

नेशनल वेक्टर बार्न डिजीज कंट्रोल प्रोग्राम के आंकड़ों के मुताबिक इस वर्ष के चार महीनों-जनवरी, फरवरी, मार्च और अप्रैल-में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) के 1625 केस और 68 मौतें रिपोर्ट की गई हैं। इन चार महीनों में जापानी इंसेफेलाइटिस (जेई) के 135 केस रिपोर्ट हुए हैं जिसमें एक भी मरीज की मौत नहीं हुई।

इंसेफेलाइटिस का सबसे अधिक प्रकोप उत्तर प्रदेश में है। इस वर्ष के चार महीनों में एईएस के 667 केस रिपोर्ट हुए जिसमें 58 मरीजों की मौत हो गई। यूपी में अब तक जापानी इंसेफेलाइटिस के 35 केस रिपोर्ट हुए हैं ।

यूपी के बाद इंसेफेलाइटिस के सबसे अधिक केस पश्चिम बंगाल और असोम से आ रहे हैं।

वर्ष 2017 में पूरे देश में एईएस के 13672 केस रिपोर्ट हुए जिसमें 1097 की मौत हो गई। पिछले वर्ष जापानी इंसेफेलाइटिस के 2181 मामले आए जिनमें 254 की मौत हो गई। यूपी में वर्ष 2017 में एईएस से 654 और जापानी इंसेफेलाइटिस से 93 मरीजों की मौत हुई।

यूपी में इंसेफेलाइटिस से सर्वाधिक प्रभावित पूर्वांचल के एक दर्जन जिले हैं। इन जिलों के मरीज इलाज के लिए बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर में आते हैं। बीआरडी मेडिकल कालेज गोरखपुर में इस वर्ष के चार महीनों में एईस के 125 केस रिपोर्ट हुए हैं जिसमें से दो मरीजों में जापानी इंसेफेलाइटिस की पुष्टि हुई है। इन 125 मरीजों में 19 वयस्क हैं जबकि 106 बच्चे हैं।

सबसे अधिक प्रभावित राज्यों में इंसेफेलाइटिस की स्थिति

        2016                 2017      2018
State       AES     JE       AES     JE       AES     JE
addeathaddeathaddeathaddeathaddeathaddeath
UP39196214107347246546939366758350
Bihar324102100251895474113120
Assam17131874279220771786048760060
Odisha1096115242421228157901770200
Tamil Nadu85935101358212722340250
West Bengal183925617439151416916540146990
Total116511301167628313672109721812541621681350

Related posts

Leave a Comment