Author : समकालीन जनमत

673 Posts - 1 Comments
जनमत

कोविड-19 से निपटने के सरकारी तरीकों की आलोचना पर पत्रकारों पर कहर

दानिश रज़ा ( दानिश रज़ा की यह रिपोर्ट ‘ द गार्जियन ’ से साभार ली गयी है। हिन्दी अनुवाद दिनेश अस्थाना का है )  ...
खबर

प्रदर्शनकारियों को ही हिंसा का स्रोत बताने का सिद्धांत रचा जा रहा है : प्रोफेसर अपूर्वानंद

समकालीन जनमत
नई दिल्ली। दिल्ली हिंसा के मामले में पाँच घंटे तक पूछताछ और मोबाइल सीज किए जाने के संबंध में दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर अपूर्वानंद ने...
शख्सियत

वीरेन डंगवाल: आधुनिकता का लोककवि

समकालीन जनमत
हिंदी के महत्वपूर्ण कवि वीरेन डंगवाल का आज जन्मदिन है। वह आज हमारे बीच होते तो 73 बरस के होते। वीरेन डंगवाल के जन्मदिन पर...
देसवा

गाँव की औरतों का कुबूलनामा- दो

समकालीन जनमत
कीर्ति (कीर्ति, इलाहाबाद विश्वविद्यालय में बी.ए. अंतिम वर्ष की पढ़ाई कर रही हैं। कोरोना और लाॅकडाउन के दौरान उन्होंने गाँव की औरतों के जीवन को...
शख्सियत

‘कोरस’ द्वारा प्रेमचंद की कहानी ‘मनोवृत्ति’ का नाट्य रूपांतरण

प्रेमचंद एक ऐसे रचनाकार हैं जो हर समय-समाज में समकालीन रहे हैं। उनकी कहानियां भारतीय समाज का एक जीता-जागता चित्र हैं। प्रेमचन्द की एक कहानी...
शख्सियत

आज भी किसान जीवन का यथार्थ है ‘पूस की रात’

समकालीन जनमत के आयोजन ‘जश्न-ए-प्रेमचंद’ में पीयूष कुमार की आवाज़ में प्रेमचंद की कहानी ‘पूस की रात’...
फील्ड रिपोर्टिंग

जिनके वीडियो वायरल नहीं हुए …

समकालीन जनमत
कोरोना डायरी : लॉकडाउन-2 नीलिशा [युवा पत्रकार नीलिशा दिल्ली में रहती हैं और इस भयावह वक़्त का दस्तावेज़ीकरण वे कोरोना डायरी नाम से कर रही...
खबर

झारखंड जनाधिकार महासभा ने सीआरपीएफ द्वारा आदिवासियों की पिटाई की घटना पर जांच रिपोर्ट जारी की, न्यायिक जांच की मांग 

समकालीन जनमत
झारखंड जनाधिकार महासभा ने सीआरपीएफ द्वारा 15 जून को चिरियाबेड़ा (झारखंड) के आदिवासियों की क्रूर पिटाई की घटना  पर रिपोर्ट जारी करते हुए कहा है...
जेरे बहस

राजनीतिक कैदियों की मोदी की सूची के बढ़ते जाने पर चुप्पी के लिये भारतीयों को पछताना पड़ेगा

( वरिष्ठ पत्रकार शिवम विज का यह लेख  ‘ द प्रिंट ’  में 29 जुलाई को प्रकाशित हुआ है। समकालीन जनमत के पाठकों के लिए...
शख्सियत

जश्न-ए-प्रेमचंद: फ़रज़ाना महदी की आवाज़ में ‘बड़े भाई साहब’

समकालीन जनमत
31 जुलाई को प्रेमचंद की 140वीं जयंती के अवसर पर समकालीन जनमत दो दिवसीय ‘जश्न-ए-प्रेमचंद’ का आयोजन कर रहा है। इस आयोजन के लिए फ़रज़ाना...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Privacy & Cookies Policy