‘ जनता बेरोजगारी से त्रस्त, योगी सरकार नाम बदलने में मस्त ’

लखनऊ. फैज़ाबाद और इलाहाबाद का नाम बदले जाने के खिलाफ लखनऊ स्थित पिछड़ा समाज महासभा कार्यालय में बैठक हुई. बैठक में एक स्वर में इसे मूलभूत समस्यओं से भटकाने की ओछी राजनीति कहा गया. इसके खिलाफ जन अभियान चलाए जाने का प्रस्ताव आया. वक्ताओं ने कहा कि नाम बदलने और मूर्तियों की राजनीति जनता के धन का दुरूपयोग कर रही है. जिलों के नाम बदलने में आने वाले खर्च से उद्योग, बेरोजगारी, शिक्षा एवं चिकित्सा जैसी मूलभूत जरूरतों को पूरा किया जा सकता था. पर सरकार का मानसिक दिवालियापन है…

Read More

हत्या जिनकी भी हो, पुरजोर विरोध कीजिएः तभी बचेगा समाज, तभी बचेगा देश !

एप्पल कंपनी में मैनेजर के पद पर काम करने वाले विवेक तिवारी को शुक्रवार देर रात गश्त कर रहे उत्तर प्रदेश पुलिस के कॉन्स्टेबल ने लखनऊ में गोली मारकर हत्या कर दी। उत्तर प्रदेश में पिछले 16 महीनों में जबसे आदित्यनाथ की सरकार बनी है, तब से अब तक दो हज़ार से भी ज़्यादा तथाकथित पुलिस एनकाउंटर हुए हैं, जिनमें 58 से ज्यादा लोग मारे गए हैं। इन मुठभेड़ों में सबसे हालिया मुठभेड़ अलीगढ़ की है जहां पत्रकारों के सामने मुस्तकिम और नौशाद नामक व्यक्ति की हत्या कर दी गई…

Read More

भाजपा का पानी उतरने लगा है : भाकपा माले

उपचुनाव परिणाम भाजपा के लिए नकारात्मक संदेश देते हैं. बिहार, पंजाब आदि राज्यों में भाजपा के साथ गठबंधन करने वाले दलों के प्रत्याशी भी हार का मजा चखने को बाध्य हुए हैं. यह दिखाता है कि मोदी-योगी सरकार की नीतियों से जनता का भरोसा उठ चुका है और इनकी वादाखिलाफी व महंगाई से लोग परेशान हैं.

Read More

योगी सरकार का एक साल : क्या पक पायेगी खुशफहमियों की खिचड़ी

संजय श्रीवास्तव   बीते एक साल में योगी ने वादों और इरादों को मिला कर विकास के चूल्हे पर खुशफहमियों की ऐसी खिचड़ी चढा दी है जिसे आंच बाहरी निवेश से मिलने वाली है। खिचड़ी कब पकेगी इसका तो पता नहीं पर प्रचार प्रसार और बयानों के जरिये इसकी खुशबू फैलाने की कोशिशें जारी हैं।फिलहाल उपचुनावों की हार ने उसकी खुशियों में खलल डाल दी है, फिर भी सरकार अपने कार्यकाल का वार्षिकोत्सव या कहें पहली वर्षगांठ बड़ी धूम धाम से मना रही है. उपचुनाव में हार के बाद धूल झाड़…

Read More