भाकपा (माले) लिबरेशन ने गढ़चिरौली मुठभेड़ की स्वतंत्र जाँच की मांग की

नई दिल्ली. भाकपा (माले) लिबरेशन ने गढ़चिरौली में मुठभेड़ के नाम पर हत्याओं की उच्चतम न्यायालय द्वारा स्थापित दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करते हुए तुरंत प्राथमिकी दर्ज कर न्यायालय की निगरानी में एक स्वतंत्र और समयबद्ध जाँच करने की मांग की है.  पार्टी ने कहा ही कि राज्य-प्रशासन छापेमारी के नाम पर स्थानीय आदिवासी समुदाय का दोहन या उत्पीड़न बंद करे. भाकपा (माले) लिबरेशन की केन्द्रीय समिति द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि  22 और 23 अप्रैल 2018 को ताड़गाँव, गढ़चिरौली में केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल और…

Read More