चित्रों में कला बाज़ार का शुरूआती चेहरा

डेविड टेनियर द्वारा 1651 में बनाया यह चित्र कला-व्यापार के आरंभिक दौर का एक दस्तावेजी चित्र है. इस चित्र में ब्रसेल्स के एक कला व्यापारी आर्चड्यूक लियोपोल्ड विल्हेम की गैलरी को चित्रित किया गया है. गैलेरी बहुत बड़ी तो नहीं है पर इसकी छत काफी ऊँची है , जिसके कारण विशाल संख्या में चित्रों को प्रदर्शित करना संभव हो सका है.

Read More

कला बाजार का एक ऐतिहासिक दस्तावेज़

यह चित्र हालाँकि अपने ऐतिहासिकता के लिए चर्चित रहा है और अमरीका में दासप्रथा का दस्तावज है , पर साथ ही यह बिना किसी लाग लपेट के, ‘चित्र’ को एक विपणन योग्य पण्य ( मार्केटेबल कमोडिटी) के रूप में स्थापित भी करता है ( हालाँकि यह इस चित्र का प्राथमिक उद्देश्य नहीं है ) , और इसी कारण से यह चित्र एक नए अर्थ के साथ चित्रकला के इतिहास में अपने को एक महत्व दस्तावेजी चित्र होने का दावा पेश करता है.

Read More