भारतीय संवैधानिक अदालतें और धर्मनिरपेक्षता (भाग-1)

 इरफान इंजीनियऱ   पिछले कुछ वर्षों से, परंपराओं और रीति-रिवाजों के नाम पर, भारत में धर्मनिरपेक्षता को पुनर्परिभाषित करने और उसकी सीमाओं का पुनः निर्धारण करने का चलन हो गया है। संविधान निर्माताओं ने एकमत से न सही, परंतु बहुमत से धर्मनिरपेक्षता को संविधान का अविभाज्य और अउल्लंघनीय हिस्सा बनाया था। स्वाधीनता के बाद के वर्षों में इस सिद्धांत का लगभग पूर्णतः पालन किया गया और धार्मिक संस्थाओं और धार्मिक नेताओं के प्रभाव और उनकी शक्तियों में शनैः-शनैः कमी लाई गई। सुधार हुए और समुदायों पर धार्मिक नेताओं और संस्थाओं…

Read More

एससी-एसटी कानून का विरोध करने वाले संविधान की जगह मनुस्मृति लाना चाहते हैं : माले

लखनऊ. भाकपा (माले) ने कहा है कि एससी-एसटी कानून का विरोध करने वाले देश में संविधान की जगह मनुस्मृति लाना चाहते हैं। पार्टी ने इस कानून के खिलाफ भारत बंद का आह्वान करने वाली ताकतों के पीछे संघ-भाजपा का हाथ होने का आरोप लगाया और कहा कि यह दलित-विरोधी, लोकतंत्र-विरोधी मानसिकता का परिचायक है। पार्टी ने गुरुवार को कहा कि बंद पूरी तरह फ्लाप रहा।  देशव्यापी प्रतिवाद के दबाव में राजग की केंद्र सरकार भले ही उक्त कानून को उसके पुराने स्वरूप में पुनर्बहाली के लिए बाध्य हुई, लेकिन ब्राह्मणवाद…

Read More

संविधान, लोकतंत्र, न्याय, समानता, बन्धुत्व के लिए यूपी यात्रा का आगाज

लखनऊ। सामाजिक संगठनों ने संविधान, लोकतंत्र, न्याय, समानता, बन्धुत्व के लिए आज यूपी यात्रा का आगाज किया। इस मौके पर यूपी प्रेस क्लब लखनऊ में पत्रकारों को संबोधित करते हुए सामाजिक संगठनों ने कहा कि संविधान, लोकतंत्र, सामाजिक न्याय पर बदस्तूर हमला जारी है। ऐसे में यह यात्रा गांव-कस्बों के आंदोलनों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने की कोशिश है। यह अभियान यूपी में चार चरणों में होगा। आज पहले चरण की शुरुआत की गई जो लखनऊ से प्रारम्भ होकर सुल्तानपुर, जौनपुर, आज़मगढ़, मऊ, बलिया, गाज़ीपुर, वाराणसी, भदोही, इलाहाबाद,…

Read More

स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर वाराणसी में निकाला गया संविधान, लोकतंत्र व आजादी बचाओ मार्च

वाराणसी। स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर संविधान, लोकतंत्र व आजादी बचाओ मार्च अंबेडकर पार्क कचहरी से जिला मुख्यालय तक निकाला गया। मार्च व सभा के माध्यम से संविधान जलाने वालों को गिरफ्तार करने, उमर खालिद के हमलावरों को जेल भेजने व मिर्जापुर में दलितों पर दमन ढाने वालों पर तत्कार कार्रवाई करने की मांग उठाई गई। मार्च का आयोजन आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति, इंसाफ मंच, अर्जक संघ, महिला जागृति समिति व भाकपा माले द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। सभा को संबोधित करते हुए एबीएसएस के जिला अध्यक्ष श्याम…

Read More

कबीर और नागार्जुन की जयंती से जन एकता सांस्कृतिक यात्रा आरम्भ

बेगूसराय. आज ज्येष्ठ पूर्णिमा दिनांक 28/06/2018 को जन संस्कृति मंच की ओर से कबीर और आधुनिक कबीर नागार्जुन की सम्मिलित जयंती मनायी गयी। इस जयंती के अवसर पर जसम ने जन एकता सांस्कृतिक यात्रा का आयोजन किया, जो वर्तमान व्यवस्था में पल रहे फासीवादी तत्त्व के खिलाफ जन-जागृति का अभियान था। जन एकता सांस्कृतिक यात्रा की शुरुआत बेगूसराय से हुई, जहां नागार्जुन जी की छोटी बेटी मंजू देवी तथा दामाद अग्निशेखर जी ने झंडी दिखाकर जत्था को विदा किया। इस प्रथम जत्थे का नेतृत्व जसम के राज्य उपाध्यक्ष दीपक सिन्हा…

Read More

दक्षिणपंथ की कीलें

भगवा खेमे के लिये अपने मंसूबो को पूरा करने के लिए 2019 का चुनाव निर्णायक है और इसके लिये वे कुछ भी करेंगे. यह चुनाव इतना भव्य और नाटकीय होगा जिसकी अभी हम कल्पना भी नहीं कर सकते हैं.

Read More