कद से बड़े कैनवास : श्वेता राय के चित्र

राकेश कुमार दिवाकर उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में मुहम्मदाबाद छोटा सा शहर है. उस छोटी सी जगह से एक लड़की का आधुनिक कला जगत तक का सफर कई मायनों में असाधारण है. कदम दर कदम चुनौतियों से जुझती श्वेता राय के कैनवास का कद आज निस्संदेह श्वेता से बड़ा है. पुरुषवादी सामंती मानसिकता वाला एक पिछड़ा समाज लड़कियों के लिए एक कैदखाने की तरह होता है. वहां से किसी लड़के को भी कला की आधुनिक दुनिया में पहुंचना बहुत दुष्कर कार्य होता है और लड़की का पहुंचना तो एक…

Read More