महिलाओं की संगठित ताकत ने बंद करा दी शराब की दुकान

बनारस शहर के चुरामनपुर गाँव की दलित बस्ती की महिलाएं और स्कूली छात्राएं पिछले एक साल से बस्ती के अंदर शराब की दुकान खुलने से परेशान थीं . कानूनी तौर पर एक गाँव में अंग्रेजी और देशी शराब की एक-एक दुकान का ही प्रावधान है लेकिन लोहता थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले इस गाँव में कानून व्यवस्था का खुले आम उल्लंघन किया गया और प्रशासन भी आँख पर पट्टी बाँध कर बैठा रहा. गाँव की महिलाओं को हर रोज शराबियों द्वारा यौन शोषण का शिकार होना पड़ता था. यहाँ…

Read More