क्या नवाज़ शरीफ़ का सियासी सर्कल पूरा हो गया है ?

पूर्व पाकिस्तानी राजनयिक हुसैन हक़्क़ानी ने इंडियन एक्सप्रेस में लिखा है, पाकिस्तान में आप एक साथ भ्रष्ट और एंटी-मिलिट्री नहीं हो सकते. मतलब आप भ्रष्ट हैं लेकिन फौज़ को उपर मानते हैं तो आसिफ़ अली ज़रदारी की तरह राजनीती कर सकते हैं. लेकिन भ्रष्टाचार और सेना की खिलाफ़वर्ज़ी एक साथ हुआ तो आपका ‘ शरीफ़ ‘ होना लाज़मी है.

Read More