-2.4 C
New York City
January 19, 2020

Tag : परंपरा

शख्सियत

महावीर प्रसाद द्विवेदी का स्मरण आज भी क्यों ज़रूरी है

समकालीन जनमत
द्विवेदी जी उस ईश्वर को ‘भ्रष्ट ईश्वर’ कहते हैं, जिसकी दुहाई छुआ-छूत मानने वाले देते हैं. द्विवेदी जी का निर्भीक आह्वाहन है- ‘ऐसे भ्रष्ट ईश्वर...