आर-पार की लड़ाई के आह्वान के साथ बिहार राज्य आशा कार्यकर्ता संघ का तीसरा राज्य सम्मेलन सम्पन्न

पटना, 3 नवंबर 2018 आशा को सरकारी सेवक का दर्जा दो, 18000 मानदेय लागू करो के नारे पर महासंघ गोप गुट व ऐक्टू से संबद्ध बिहार राज्य आशा कार्यकर्ता संघ का आहूत तीसरा राज्य सम्मेलन आशा सहित सभी स्कीम वर्करों को आधुनिक गुलाम बनाने वाली मोदी- नीतीश सरकार को आगामी चुनाव में धूल चटाने , 1 दिसंबर से राज्यव्यापी अनिश्चितकालीन हड़ताल से मोदी- नीतीश के खिलाफ आर-पार की लड़ाई शुरू करने तथा 8 -9 जनवरी 19 को देशव्यापी दो दिवसीय आम हड़ताल को सफल बनाने के आह्वान के साथ आज…

Read More

कोरस के सालाना कार्यक्रम ‘अजदिया भावेले’ में रजिया सज्जाद ज़हीर की कहानियों का पाठ एवं मंचन

28 अक्टूबर, पटना आज कोरस के सालाना कार्यक्रम ‘अजदिया भावेले’ की शृंखला में इस बार साहित्यकार, नाट्यकर्मी व एक्टिविस्ट रज़िया सज़्ज़ाद ज़हीर के जन्म-शती वर्ष पर उनकी कहानियों का पाठ एवं मंचन का आयोजन किया गया। भारतीय उपमहाद्वीप में प्रगतिशील धारा के साहित्य पर कोई भी बातचीत रज़िया सज्जाद ज़हीर के बिना मुक़म्मल नहीं होगी।उनकी कहानियां अविभाजित भारत के साम्राज्यवाद-विरोधी व साम्प्रदायिकता-विरोधी मूल्यों को बढ़ानेवाली व आम जन के मार्मिक व संवेदनशील संदर्भ की हैं ।उनकी कहानियों में देश के विभाजन का दर्द मुखर होकर सामने आता है। कार्यक्रम की…

Read More

वैज्ञानिक दृष्टि और आलोचनात्मक यथार्थ वाले विचार संपन्न कवि थे विष्णु खरे: आलोक धन्वा

विष्णु खरे जनता के आक्रोश के संगठित होने की कामना करने वाले कवि हैं। उनकी कविताएं जनसाधारण के जीवन के दृश्यचित्रों की तरह हैं। वर्णनात्मकता और संवेदना के साथ उनकी कविताएं विचार और तर्क के गहन सिलसिले की वजह से महत्वपूर्ण हैं। उनकी कविताएं हमारे संस्कारों और रूढ़ विचारों को बदलने की क्षमता रखती हैं।

Read More

मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के खिलाफ पूरे देश में विरोध प्रदर्शन

नई दिल्ली. लेखकों, बुद्धिजीवियों व मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के घर छापेमारी और कवि वरवर राव, वकील सुधा भारद्वाज, मानवाधिकार कार्यकर्ता अरुण फ़रेरा, गौतम नवलखा और वरनॉन गोंज़ाल्विस की गिरफ्तारी के खिलाफ पूरे देश में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. बुधवार को छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखण्ड आदि राज्यों में विरोध प्रदर्शन हुए. इन विरोध प्रदर्शनों में बड़ी संख्या में नागरिक, लेखक, सामाजिक कार्यकर्ता, मानवाधिकार कार्यकर्ता शामिल हुए. मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के विरोध में इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ भवन पर वामपंथी संगठनों द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूंका…

Read More

प्रो मैनेजर पांडेय को उदयराज सिंह स्मृति सम्मान

चर्चित साहित्यिक पत्रिका ‘ नई धारा ’ द्वारा वर्ष 2018 ‘ उदयराज सिंह स्मृति सम्मान ’ प्रसिद्ध समालोचक प्रो मैनेजर पांडेय को दिया जाएगा जिसके तहत उन्हें एक लाख रुपये सहित सम्मान पत्र, स्मृति चिन्ह दिया जायेगा. इसके साथ ही सुप्रतिष्ठित लेखक डाॅ मंगलमूर्ति (लखनऊ), चर्चित पत्रकार, कवि एवं व्यंग्यकार सुभाष राय (लखनऊ) तथा पत्रकार-कवि विजय चोरमार (कोल्हापुर, महाराष्ट्र) वर्ष 2018 के ‘नई धारा रचना सम्मान ’ से नवाजे जायेंगे जिसके प्रति प्रत्येक लेखकों को 25-25 हजार रुपये सहित सम्मान पत्र, प्रतीक चिन्ह दिए जायेंगे.

Read More

हजारों लोगों ने मानव शृंखला बना मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में नीतीश-मोदी का इस्तीफा मांगा

मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन उत्पीड़न मामले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व सुशील कुमार मोदी के इस्तीफे, सभी शेल्टर गृहों की सीबीआई जांच और जांच से जुड़े मामलों के मीडिया में प्रकाशन पर रोक के आदेश को तत्काल रद्द करने की मांग पर 28 अगस्त को वाम दलों के आह्वान पर पूरे बिहार में मानव शृंखला का आयोजन किया गया. मानव शृंखला को राजद, समाजवादी पार्टी, हम आदि पाटियों ने भी अपना सक्रिय समर्थन दिया. पूरे बिहार में दसियो हजार लोगों ने दोपहर 12 बजे से 1 बजे तक कतारबद्ध होकर बलात्कार की संस्कृति के खिलाफ आवाज उठाई और उसपर तत्काल रोक लगाने की मांग की.

Read More

पीएचएमसी, पटना में डॉ संजय कुमार के इलाज में लापरवाही, हालत बिगड़ने पर एम्स लाया गया

जानलेवा हमले में बुरी तरह घायल महात्‍मा गाँधी केंद्रीय विश्‍वविद्यालय, मोतिहारी के असिस्टेंट प्रोफ़ेसर डॉ संजय कुमार की हालत और बिगड़ने पर उन्हें इलाज के लिए एम्स ले जाया गया है. पीएचएमसी, पटना में उनके इलाज में घोर लापरवाही बरती गई. इलाज के दौरान डॉ संजय 12 बार बेहोश हो हुए लेकिन चिकित्‍सकों ने बेपरवाही पूर्वक कहा कि मॉब लिंचिंग में यह सब नॉर्मल चीजें होती हैं. यही नहीं उन्हें एम्स रेफर करने में भी पीएचएमसी, पटना के जिम्मेदारों ने अड़ंगा लगाया.

Read More

स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर पटना में ‘कोरस’ द्वारा प्रतिरोध की एक शाम का आयोजन

14 अगस्त, पटना . स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर कोरस द्वारा सांस्कृतिक प्रतिरोध की एक शाम का आयोजन किया गया . यह आयोजन सरकारी संरक्षण में हो रहे मुजफ्फरपुर,पटना,देवरिया समेत पूरे देश में महिलाओं पर हो रही वीभत्स यौन हिंसा के ख़िलाफ़ था. कार्यक्रम की शुरुआत 1857 के नायक अजीमुल्ला खां के गीत ‘हम हैं इसके मालिक हिंदुस्तान हमारा’ से हुई.  इसी दौरान वामदलों का कैंडिल मार्च जीपीओ गोलंबर से चलकर बुद्ध स्मृति पार्क पहुंचा . कार्यक्रम की शुरुआत 1857 के नायक अजीमुल्ला खां के गीत ‘हम हैं इसके मालिक हिंदुस्तान…

Read More

कवि वीरेन डंगवाल के 71वें जन्मदिन पर बरस रही थी कवि की याद

(पांच अगस्त को हिंदी के कवि वीरेन डंगवाल का जन्म दिन होता है । देश भर में कवि की याद में हुए आयोजनों में से कुछ झलकियाँ यहां प्रस्तुत हैं ।) बरस रही थी कवि की याद  कल पांच अगस्त को कवि वीरेन डंगवाल का जन्मदिन था .कवि तो बहुत हैं और उनकी यादें भी ,परन्तु मैंने लोगों को जिस तरह वीरेन डंगवाल को याद करते हुए सुना है ,देखा है वैसा किसी को नहीं .जो उनसे एक बार भी मिला है ,जो उनसे लोगों को मिलते हुए देखा भर…

Read More

बिहार बंद : पटना में महिलाओं के साथ पुलिस की धक्कामुक्की, बंद समर्थकों ने ट्रेनें रोकी

वाम दलों द्वारा आहूत आज के बिहार बंद का व्यापक असर देखा जा रहा है. कई स्थानों पर रेलवे के परिचालन को बाधित किया गया है, तो राष्ट्रीय व राज्य पथों पर भी जगह-जगह बंद समर्थकों ने जाम लगा रखा है. समाज के विभिन्न तबके के लोगों ने मुजफ्फरपुर यौन उत्पीड़न व बिहार में दलित-गरीबों पर हमले के खिलाफ आयोजित आज के बिहार बंद को सक्रिय समर्थन दिया है.

Read More

पटना में प्रेमचंद जयंती पर हिरावल ने ‘निर्वासन’ का मंचन किया

पटना.कथा सम्राट प्रेमचंद जयंती के अवसर पर आज स्थानीय छज्जूबाग में हिरावल के कलाकारों ने प्रेमचंद की कहानी ‘निर्वासन’ का नाट्य प्रदर्शन किया। साथ ही, फिरकापरस्ती के विरुद्ध रचनाओं का गायन किया. इस अवसर पर हिरावल की ओर से ‘निर्वासन’ के आधार पर निर्मित फिल्म को भी जारी किया गया.  नाटक और फिल्म में काम करनेवाले कलाकार प्रीति प्रभा और राम कुमार हैं. महिलाओं पर बढ़ रही हिंसा और सांप्रदायिक फासीवादी माहौल के खिलाफ आयोजित इस कार्यक्रम के मौके पर उपस्थित दर्शकों को संबोधित करते हुए लेखक संतोष सहर ने…

Read More

पटना के गर्दनीबाग में भूमिहीनो, गरीबों व दुकानदारों को उजाड़ने के खिलाफ दो दिन अनशन

गर्दनीबाग में बरसों से रह रहे भूमिहीन-गरीबों को सरकार के निर्देश पर उजाड़ा जा रहा है. प्रशासन ने गरीबों की झोपड़ियां ढाहनी शुरू कर दी हैं. गर्मी और अब बारिश में हजारों परिवार पेड़ के नीचे अपना जीवन गुजर बसर कर रहे हैं. उनके पास अन्यत्र न तो कोई जमीन है और न ही किराये के मकान में वे रह सकते हैं. बिजली व पानी सप्लाई भी बाधित कर दी गई है.

Read More

पटना में नागरिक प्रतिवाद सभा आयोजित कर स्वामी अग्निवेश पर जानलेवा हमले की भर्त्सना

प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश पर विद्यार्थी परिषद व भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं द्वारा किये गए जानलेवा हमले के खिलाफ बुधवार को कारगिल चौक, पटना में नागरिक प्रतिवाद सभा आयोजित की गई है. सभा में उपस्थित सैकड़ों लोगों ने एक स्वर में लोकतंत्र पर जारी इस चौतरफा हमले के विरोध में एकजुटता दिखलाई.

Read More

महेश्वर स्मृति आयोजन में युवा कवि अदनान कफ़ील दरवेश और विहाग वैभव का काव्य पाठ

महेश्वर चाहते थे कि कवि-लेखकों और जनता के बीच कम से कम दूरी हो: आलोक धन्वा महेश्वर की लड़ाई को आगे बढ़ाने की जरूरत है: संतोष सहर पटना, 24 जून . ‘‘महेश्वर चाहते थे कि कवि-लेखकों और जनता के बीच कम से कम दूरी हो, क्योंकि जनता ही रचना का अनंत स्रोत होती है। वह जनता जो मेहनत करती है, ईमान की रोटी खाती है। खून और कत्लोगारत में डूबो देने की नृशंसता से संघर्ष करते हुए वही जीवन को बचाती है।’’ आज बीआईए सभागार में दो दिवसीय महेश्वर स्मृति…

Read More

भाकपा माले 27 सितंबर को गांधी मैदान में भाजपा भगाओ-लोकतंत्र बचाओ रैली करेगी

भाकपा माले ने 27 सितंबर को पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में भाजपा भगाओ – लोकतंत्र बचाओ रैली करने का निर्णय किया है. जहानाबाद में संपन्न दो दिवसीय राज्य कमिटी की बैठक में यह निर्णय लिया गया.

Read More

भिखारी ठाकुर लिखित ‘ गबरघिचोर ‘ के मंचन के साथ नाट्योत्सव का समापन

भोजपुरी के नामी कवि-नाटककार भिखारी ठाकुर का यह नाटक अभी भी प्रासंगिक है. ‘गबरघिचोर’ सामाजिक संरचना में स्त्री की जगह, महिला-पुरुष सम्बंध और विभिन्न क़िस्म की सांस्कृतिक सत्ताओं से हमारा साक्षात कराता है

Read More

‘ जो बंदिशें लगाते हैं, वे लगाएँगे, जो उन्हें गाते हैं, वो गाएँगे ’

‘ बंदिश ‘ नाटक पुराने और नए कला परिदृश्य के बीच बदलते सांस्कृतिक संसार की झलक तो उभारता ही है, साथ ही वह संस्कृति और सत्ता के सम्बंध की जटिलता को भी उभारने की कोशिश करता है.

Read More

हैबसपुर जनसंहार के आरोपियों की रिहाई और राघोपुर दियारा कांड के खिलाफ माले का प्रतिवाद

पटना, 2 जून. बाथे-बथानी-मियांपुर-नगरी आदि जनसंहारों की ही तर्ज पर पटना जिले के बहुचर्चित हैबसपुर जनसंहार के सभी 28 आरोपियों को एससी-एसटी कोर्ट द्वारा बरी करने और वैशाली जिले के राघोपुर दियारा में पुलिस-प्रशासन की मौजूदगी में दबंगों द्वारा दलितों पर बर्बर हमले-आगजनी व लूटपाट की घटना के खिलाफ भाकपा-माले ने एक जून को राज्यव्यापी विरोध प्रदर्शन किया. राजधानी पटना में कारगिल चौक पर प्रतिरोध मार्च का आयोजन किया गया और कई जगह पर नीतीश कुमार का पुतला दहन भी किया गया. पटना के अलावा जहानाबाद, अरवल, आरा, गया, पटना…

Read More

‘कुच्ची का कानून’ के मंचन के साथ ‘कोरस’ का ‘आज़ाद वतन-आज़ाद जुबाँ’ नाट्योत्सव प्रारंभ

आसिफ़ा की याद में ‘कोरस’ नाट्य समूह द्वारा ‘आज़ाद वतन-आज़ाद जुबाँ’ नाट्योत्सव की शुरुआत आज से महिलाओं का सवाल सिर्फ़ महिलाओं का नहीं, वरन पुरुषों का भी है, पूरे समाज का: प्रो. डेजी नारायण अभिव्यक्ति की आज़ादी पर ख़तरे के दौर में हम, अंग्रेजों के समय से ही चला जा रहा है  ड्रेमेटिक परफ़ारमेंस ऐक्ट : परवेज़ अख़्तर आज शाम छः बजे से पटना के कालिदास रंगालय में ‘कोरस’ नाट्यसमूह द्वारा आयोजित ‘आज़ाद वतन-आज़ाद जुबाँ’ नाट्योत्सव की शुरुआत हुई। इस नाट्योत्सव में बम्बई की टीम ‘आरम्भ मुम्बई प्रोडक्शन’ अपना नाटक ‘बंदिश’, बेगूसराय से ‘द फ़ैक्ट रंगमंडल’ अपना नाटक ‘गबरघिचोर’ और पटना…

Read More

‘ मृत्युंजय की कविताएं आम अवाम की बेचैनी, क्षोभ, अवसाद, दुख, पीड़ा और गुस्से का इजहार हैं ’

जन संस्कृति मंच की ओर से छज्जूबाग, पटना में युवा कवि मृत्युंजय के काव्यपाठ और बातचीत का आयोजन हुआ. मृत्युंजय ने ‘यां’, ‘नश्वर-सी सुंदरता’, ‘ पिया हाजी अली’ ‘किमोथैरेपी’, ‘अजनबीयत’, ‘शहादत इस फलक के बीच जगमगाती है’, ‘मणिपुर एक तिरछी गड़ी वर्णमाला है राष्ट्र के कलेजे में’ आदि कविताएं सुनाई.

Read More