गांव में डॉ. अम्बेडकर व गौतम बुद्ध की मूर्ति रखने पर दलितों का उत्पीड़न

डॉ संदीप पांडेय उ.प्र. के राजधानी लखनऊ से सटे जिलों के दो गांवों में दलित समुदाय डॉ. बी.आर. अम्बेडकर व भगवान गौतम बुद्ध की मूर्तियां लगा पाने में असफल है क्योंकि गांव के बाहर के शासक दल के प्रभावशाली लोग व प्रशासन के अधिकारी विरोध कर रहे हैं। सीतापुर जिले की बिस्वां तहसील के थानगांव थाना क्षेत्र के गांव गुमई मजरा ग्राम सभा रामीपुर गोड़वा व बाराबंकी जिले के देवा थाना क्षेत्र के सरसौंदी गांव में मूर्तियां लगाने हेतु जिला प्रशासन के माध्यम से शासन से अनुमति भी मांगी गई…

Read More

‘कुछ नॉस्टैल्जिया तो है’ हेमंत कुमार की कहानी ‘रज्जब अली’ में

(कथाकार हेमंत कुमार की कहानी ‘ रज्जब अली ’ पत्रिका ‘ पल-प्रतिपल ’ में प्रकाशित हुई है. इस कहानी की विषयवस्तु, शिल्प और भाषा को लेकर काफी चर्चा हो रही है. कहानी पर चर्चा के उद्देश्य से समकालीन जनमत ने 22 जुलाई को इसे प्रकाशित किया था. कहानी पर पहली टिप्पणी युवा आलोचक डॉ. रामायन राम की आई जिसे हमने प्रकाशित किया है, दूसरी टिप्पणी जगन्नाथ दुबे की आई जो डॉ. रामायन राम द्वारा उठाए गए सवालों से भी टकराती है . इस कहानी पर राजन विरूप की टिप्पणी भी…

Read More

माले जांच दल की रिपोर्ट में सामने आया मिर्जापुर में दबंगों द्वारा दलितों पर जुल्म का मामला

दबंगों ने दलित महिलाओं पर ट्रैक्टर चढ़ाया, हमले में एक महिला का गर्भपात हुआ  जांच दल के सदस्य घटनास्थल का दौरा करने के बाद अस्पताल में घायलों से मिले घटना के विरोध में 13 अगस्त को मिर्जापुर कलेक्ट्रेट पर माले का धरना और14 को राज्यव्यापी प्रतिवाद होगा लखनऊ, 12 अगस्त। भाकपा (माले) की राज्य इकाई ने मिर्जापुर में लालगंज इलाके के कोलहा गांव में शुक्रवार को दलितों पर दबंगों द्वारा फायरिंग व जानलेवा हमले की जांच के लिए भेजे अपने तीन सदस्यीय दल की जांच रिपोर्ट आज यहां जारी कर दी। पार्टी ने उक्त रिपोर्ट…

Read More

समाज का सच सामने लाती है हेमंत कुमार की कहानी ‘रज्जब अली’

(कथाकार हेमंत कुमार की कहानी  ‘ रज्जब अली  ’ पत्रिका ‘ पल-प्रतिपल ’ में प्रकाशित हुई है. इस कहानी की विषयवस्तु, शिल्प और भाषा को लेकर काफी चर्चा हो रही है. कहानी पर चर्चा के उद्देश्य से समकालीन जनमत ने 22 जुलाई को इसे प्रकाशित किया था. कहानी पर पहली टिप्पणी युवा आलोचक डॉ. रामायन राम की आई  जिसे हमने प्रकाशित किया है,  दूसरी टिप्पणी जगन्नाथ दुबे की आई जो डॉ. रामायन राम द्वारा उठाए गए सवालों से भी टकराती है . इस सिलसिले को आगे बढ़ाते हुए प्रस्तुत है…

Read More

मो. आरिफ की कहानी ‘ लू ’ : दलितों की अपमानजनक स्थितियों और उनकी जिजीविषा को दर्शाने वाली कहानी

मो. आरिफ ने अपने लेखन के शुरूआती दौर में अंग्रेज़ी में एक उपन्यास लिखा था. बाद में उन्होंने हिन्दी में कहानियाँ लिखना शुरू किया. उनकी कहानियों ने हिन्दी जगत में उन्हें ख़ासी पहचान दिलाई. उनकी कहानी ‘ लू ’ ने सबसे पहले हिन्दी के पाठकों का ध्यान आकृष्ट किया. यह कहानी अपनी कथादृष्टि की परिपक्वता और अंतर्वस्तु की स्पष्टता के लिए जानी जाती है. ‘ लू ’ सवर्ण मानसिकता की क्रूर और जड़ अहम्मन्यता की पोल खोलती है. यह कहानी इंस्पेक्टर चौहान और जोगी पासवान की है. कहानी इन दोनों चरित्रों के…

Read More

जमीन हड़पने के लिए प्रशासन की मौजूदगी में दबंगों का राघोपुर दियारा में उत्पात

दलितों की पिटाई, इनकी दुकानों व घरों में आगजनी-लूटपाट यह सब पुलिस बल की मौजूगदी में हुई, फिर भी एसआई सुधीर कुमार ने अनुसूचित जाति के ही 18 लोगों को नामजद व 15-16 अज्ञात लोगों पर पुलिस बल पर हमला करने और सरकारी काम में बाधा डालने का झूठा मुकदमा दर्ज कर दिया.

Read More

दलितों का भारत बंद : दलित आन्दोलन का नया दौर और नया रूप

  पिछले चार सालों में भारत में दलित आन्दोलन नए रूप में विकसित होना प्रारम्भ कर चुका है.रोहित वेमुला की संस्थानिक हत्या,गुजरात का ऊना आन्दोलन,सहारनपुर में भीम आर्मी का आन्दोलन,महाराष्ट्र के भीमा कोरे गांव का संघर्ष और 2 अप्रैल का दलितों द्वारा किया गया स्वत:स्फूर्त भारत बंद,इन सभी आंदोलनों ने यह साबित किया है कि भारत में दलित आन्दोलन अब नए दौर में प्रवेश कर चुका है. आज के समय में दलित आन्दोलन ज्यादा व्यापक मुद्दों,विस्तृत नजरिये और उग्र तेवर के साथ सामने आया है. लोकतंत्र पर बढ़ते फासीवादी हमले और…

Read More

सीतापुर के जिला सचिव को धमकी मामले में माले नेता गृह सचिव से मिले

लखनऊ। सीतापुर में पार्टी जिला सचिव को फोन पर जान से मारने की धमकी मामले में भाकपा (माले) के नेताओं ने शुक्रवार को गृह सचिव भगवान स्वरूप से एनेक्सी सचिवालय में मिलकर शिकायत की. पार्टी के दो सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने गृह सचिव से धमकी देनेवाले दबंगों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करने, जिला सचिव अर्जुनलाल की सुरक्षा की जवाबदेही सरकार द्वारा लेने और दलित उत्पीड़न की घटनाओं में एफआईआर दर्ज कर न्याय दिलाने की मांग की. माले नेताओं ने गृह सचिव को ज्ञापन देकर कहा कि सीतापुर के हरगांव थाना क्षेत्र…

Read More

एससी /एसटी एक्ट : दुरुपयोग की चिंता या कानून की जड़ ही खोदने की कोशिश

उच्चतम न्यायालय द्वारा अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति अधिनियम 1989  के संदर्भ में फैसला दिए जाने के बाद पूरे देश में इस फैसले के पक्ष और विपक्ष में बहस-मुबाहिसे का माहौल गर्म है. फैसले का विरोध करने वाले मानते हैं कि यह फैसला,अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति अधिनियम को और कमजोर कर देगा. इससे इन जातियों को, जो थोड़ी बहुत कानूनी सुरक्षा हासिल है, उसका भी क्षरण हो जायेगा. इस फैसले का विरोध करने के लिए अनुसूचित जाति के संगठनों ने दो अप्रैल को भारत बंद का आह्वान किया, जिसका समर्थन वामपंथी पार्टियों समेत…

Read More

दो अप्रैल के भारत बंद के दिन व बाद में पुलिस ने जाति पूछकर दलित लड़कों को घरों से उठाया : जांच रिपोर्ट

दलित उत्पीड़न की जांच को आजमगढ़ दौरे पर गए भाकपा (माले) टीम की रिपोर्ट जारी 16-17 अप्रैल को आजमगढ़ में माले करेगी दो दिवसीय भूख हड़ताल लखनऊ। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माले) के तीन सदस्यीय जांच दल ने राज्य सचिव सुधाकर यादव के नेतृत्व में आजमगढ़ जिले के जीयनपुर और आसपास के गांवों का सोमवार को पूरे दिन दौरा किया, जहां से दो अप्रैल को भारत बंद के दिन और उसके बाद दलितों का बड़े पैमाने पर प्रशासनिक उत्पीड़न किये जाने की शिकायतें पार्टी को मिली थीं। दल के सदस्यों…

Read More

भारत बंद और उसके बाद दलितों पर हो रहे हमलों के खिलाफ भाकपा माले का राज्य के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन

दलितों पर दमन और उत्पीड़न के विरोध में भाकपा(माले) का लखनऊ में अम्बेडकर प्रतिमा पर एक दिवसीय उपवास लखनऊ, अप्रैल। दो अप्रैल को भारत बंद के दौरान व बाद में दलितों पर दमन के विरोध में आज भाकपा (माले) के राज्यव्यापी आवाहन पर लखनऊ, इलाहबाद, चंदौली में पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन, भूख हड़ताल, उपवास कर प्रतिवाद दर्ज कराया. लखनऊ में उपवास लखनऊ में पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं ने हजरतगंज स्थित अम्बेडकर प्रतिमा पर दिवसीय उपवास किया। पार्टी के जिला प्रभारी का0 रमेंश सिंह सेंगर के नेतृत्व में राजीव गुप्त, शकील…

Read More