मोदी सरकार द्वारा किसानों के साथ धोखाधड़ी के खिलाफ किसानों का “ दिल्ली मार्च ” 29-30 नवम्बर को

अखिल भारतीय किसान महासभा नई दिल्ली. 2014 के लोकसभा चुनाव में वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी भाजपा ने देश के किसानों से कर्ज माफी और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिश के अनुरूप फसलों का डेढ़ गुना दाम देने का वायदा किया था. यही नहीं उन्होंने देश के लोगों को अच्छे दिन लाने का वायदा भी किया था. पर अपने साढे चार साल के शासन में इस सरकार ने न सिर्फ देश के किसानों के साथ खुला धोखा किया बल्कि अपनी कारपोरेट परस्ती के कारण आज देश को आर्थिक कंगाली…

Read More

‘ मोदी सरकार ने हर मोर्चे पर किसानों और देश की जनता से धोखा किया है ’

  सोनीपत (हरियाणा).  अखिल भारतीय किसान महासभा की राष्ट्रीय परिषद की दो दिवसीय बैठक आज हरियाणा के सोनीपत स्थित सर छोटूराम धर्मशाला में शुरू हुई। बैठक की अध्यक्षता संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष कामरेड रुलदू सिंह ने की। बैठक की शुरुआत करते हुए किसान महासभा के राष्ट्रीय महासचिव कामरेड राजाराम सिंह ने कहा कि मोदी राज में रफाल महा घोटाला और सीबीआई तख्ता पलट की घटनाओं ने साबित कर दिया है कि यह सरकार कानून और संविधान के प्रावधानों का खुला उल्लंघन कर रही है। इस सरकार के रहते देश का…

Read More

मोदी सरकार के खिलाफ किसानों का राष्ट्रव्यापी “जेल भरो” आन्दोलन

पुरुषोत्तम शर्मा साम्राज्यवाद विरोधी ‘भारत छोड़ो दिवस’ के मौके पर 9 अगस्त 2018 को नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ देश भर के किसानों का जोशीला ‘जेल भरो आंदोलन’ सफल रहा.  इस राष्ट्रव्यापी विरोध कार्यक्रम में देश भर में लाखों किसान सड़क पर उतरे. किसानों के इस राष्ट्रव्यापी जेल भरो आंदोलन का आह्वान अखिल भारतीय किसान महासभा और अखिल भारतीय किसान सभा ने किया था. यह पहला ऐसा मौका है जब देश भर में किसानों के सवाल पर इतने व्यापक पैमाने पर ‘जेल भरो’ और विरोध कार्यक्रम हुआ है. देश के…

Read More

खेती-किसानी के मौसम में भोजपुर के किसान सड़क पर

भोजपुर के अगिआंव प्रखंड के नहरों में पानी लाने के लिए किसानों के 30 घंटे के जुझारू आंदोलन ने सरकार-प्रशासन को झुका दिया. किसानों के आन्दोलन से 20 वर्ष से सूखी नहरों में पानी आया है.

Read More

चंपारण में अंग्रेजों के ज़माने के कानून ‘ कोर्ट आफ वार्ड्स ’ को ख़त्म करने के लिए गरीबों ने दिया धरना

  पटना, 27 फरवरी. चंपारण में अब तक चल रहे अंग्रेजी राज के औपनिवेशिक कानून ‘ कोर्ट आफ वार्ड्स ’ को तत्काल खत्म करने की मांग पर बेतिया राज भूमि अधिकार संघर्ष मोर्चा, भाकपा-माले, अखिल भारतीय किसान महासभा व खेग्रामस ने विधान सभा के सामने गर्दनीबाग में आज धरना दिया. धरना को खेग्रामस के महासचिव धीरेन्द्र झा, अखिल भारतीय किसान महासभा के महासचिव राजाराम सिंह, पूर्व सांसद रामेश्वर प्रसाद, काॅ. केडी यादव, विधायक सत्यदेव राम, खेग्रामस के बिहार राज्य सचिव वीरेन्द्र प्रसाद गुप्ता, शशि यादव, भाकपा-माले राज्य कमिटी सदस्य सुनील…

Read More