फर्जी मुठभेड़ों का सवाल उठाने पर आज़मगढ़ पुलिस ने रिहाई मंच के महासचिव को धमकी दी

लखनऊ, 7 जुलाई. फर्जी मुठभेड़ पर सवाल उठाने पर रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव को आजमगढ़ कन्धरापुर थाना प्रभारी ने फ़ोन कर गलियां देते हुए धमकी दी. रिहाई मंच के प्रतिनिधि मंडल ने उत्तर प्रदेश पुलिस महानिरीक्षक, लोक शिकायत मोहित अग्रवाल से 6 जुलाई को मुलाकात कर पत्रक के साथ कॉल डिटेल का व्यौरा सौंपा. प्रतिनिधि मंडल को मोहित अग्रवाल ने निष्पक्ष जाँच का आश्वासन दिया.

मंच ने कहा कि किसी भी कीमत पर इंसाफ के सवाल से समझौता नहीं किया जायेगा.

रिहाई मंच लखनऊ  के प्रवक्ता अनिल यादव ने बताया कि रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव को आजमगढ़ के कन्धरापुर थाना प्रभारी ने अपने सीयूजी नम्बर 9454402912 से करीब 10 बजे रात को फोन करके धमकी देते हुए कहा कि वह आजमगढ़ जिले के कन्धरापुर थाने का इंचार्ज है तथा एसओजी को देखते हैं, उनका नाम अरविंद यादव है। उन्होंने गालियां देते हुए कहा  ‘‘ठीक नहीं होगा जान लेना,’’ ‘‘सेहत के लिए ठीक नहीं होगा,’’ ‘‘इसे परामर्श समझो या धमकी जो भी समझते समझ लो,‘‘ ‘‘तुम्हारे घर पर आउंगा,’’ ‘‘मैं कल आ रहा हूं तुम्हारे घर,’’ ‘‘बचा लेना तो बताना भागो,’’ ‘‘आफिस कहां है ये बताओ तुम्हारा आफिस कहां है,’’ ‘‘रहते कहां हो,’’ ‘‘कल अगर नहीं आए तो ठीक नहीं होगा,’’ ‘‘कल शाम तक नहीं आए तो मुकदमा लिखूंगा,’’ ‘‘तुम रंडी की औलाद है,’’ ‘‘ मैं कह रहा हूं तुम अपने बाप की औलाद नहीं हो,‘‘ ‘‘अगर फिर नाम छप गया तुम्हारे मंच से तुम अपने लिए खैर मत समझना,’’ ‘‘सुन लो राजीव होश में रहना होश में रहो दिमाग ठिकाने कर लो,’’ ‘‘ठीक नहीं होगा तुम्हारे लिए’’ के साथ मुक़दमा दर्ज़ करने की धमकी दी.

जारी प्रेस नोट में प्रवक्ता ने बताया कि रिहाई मंच के प्रतिनिधि मंडल ने उत्तर प्रदेश पुलिस महानिरीक्षक, लोक शिकायत मोहित अग्रवाल से मुलाकात कर पत्रक के साथ कॉल डिटेल का व्यौरा सौंपा. प्रतिनिधि मंडल को मोहित अग्रवाल ने निष्पक्ष जाँच का आश्वासन दिया. प्रतिनिधि मंडल में सृजनयोगी आदियोग, विनोद यादव, शम्स तबरेज़, राबिन वर्मा, राजीव यादव और अनिल यादव शामिल थे. रिहाई मंच ने ट्विटर से उत्तर प्रदेश पुलिस को भी पूरे प्रकरण से अवगत कराते हुए कार्रवाई की मांग की है.

Related posts

Leave a Comment