मोदी शासन देश के लिए एक हादसा साबित हुआ है : दीपंकर

  • 179
    Shares

कोडरमा (झारखण्ड ).  कोडरमा के ब्लॉक मैदान , तिलैया में भाकपा माले ने 8 अक्टूबर को बड़ी रैली कर “ मोदी–भाजपा हटाओ , देश बचाओ  ” की हुंकार भरी .

रैली को भाकपा माले के महासचिव कामरेड दीपंकर भट्टाचार्य, चर्चित युवा दलित नेता जिग्नेश मेवानी, झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के विधायक जगरनाथ महतो सहित भाकपा, माकपा के वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया.

भाकपा माले के महसचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा कि मोदी शासन देश के लिए एक हादसा साबित हुआ है . इसलिए 2019 के चुनाव में तो देश की जनता उन्हीं नारों को उठाकर पूछेगी कि अबकी बार का हश्र क्या हुआ ? बैंकों में रखी देश की जनता की गाढ़ी कमाई के हजारों करोड़ रुपये लोन के नाम पर अम्बानी–अदानी जैसों खुलेआम दे दिया जा रहा है . मोदी राज में हुए अरबों के घोटालों के आगे देश में अबतक हुए सभी घोटाले बच्चे नज़र आ रहे हैं . राष्टीय सुरक्षा का हवाला देकर रफाल घोटाल किया जाता है . इसलिए जिस झारखण्ड , बिहार और उत्तर प्रदेश कि जनता को झांसा देकर पिछले चुनाव में भाजपा ने 100 सीटें झटक लीं थी , इस बार एक-एक सीट उनसे ले लेना है .

रैली में माले के समर्थन में आये झामुमो व वाम दलों के नेताओं को धन्यवाद देते हुए उन्होंने  कहा कि कोडरमा में यदि सभी दलों ने हमारा साथ दिया तो माले भी झारखण्ड में उन दलों के पक्ष में पूरी ताक़त से काम करेगी . उन्होंने कोडरमा के मतदाताओं से अपील की कि पिछली बार की कमियों से सबक लेते हुए इस बार माले को वे अपना मजबूत समर्थन देकर देश को हादसों के राज से मुक्ति दिलाएं .

चर्चित युवा दलित नेता व विधायक जिग्नेश मेवाणी ने जोशीले अंदाज़ में कोडरमा में माले को मजबूत बनाने का आह्वान करते हुए कहा कि मोदी शासन को हटाना ही आज सबसे बड़ा राष्ट्र हित का कार्य है . उन्होंने कहा मैं भी गुजराती हूँ और उन्होंने जिस गुज़रात मॉडल को दिखाकर पुरे देश के लोगों को झांसा दिया था , उसकी पोल खुल चुकी है . इनका अच्छे दिन किसानों की आत्महत्या और रोज–रोज की महंगाई लाया है . न खाउंगा न खाने दूंगा कहकर वे पूरी बेशर्मी खा रहें हैं और खिला रहें हैं . आज अगर भगत सिंह होते तो इस दलित विरोधी – साम्प्रदायिक उन्माद के शासन के खिलाफ देश की सभी लोकतांत्रिक – वामपंथी ताक़तों के साथ खड़े होते . तो हमें भी पूरी ताक़त से कोडरमा में लाल झंडे को लहराना होगा .

झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के विधायक जगरनाथ महतो ने अपनी पार्टी की ओर से माले के भाजपा हटाओ , देश बचाओ नारे का पुरजोर समर्थन करते हुए कहा कि उनकी पार्टी कोडरमा में माले के संघर्ष के साथ है . भाजपा शासन ने देश के साथ–साथ झारखण्ड को लूट खंड में बदल दिया है इसलिए झारखण्ड में भाजपा शासन को हटाने में पूरी ताक़त लगायेंगे .

मासस विधायक अरूप चटर्जी ने कोडरमा लोकसभा की जनता से भाकपा माले को अपना पूरा समर्थन देने की अपील की . उन्होंने कहा कि ये जगजाहिर सत्य है कि जनता के सवालों पर सबसे पहले और मजबूती से लाल झंडे के लोग ही लड़ते हैं . मोदी शासन ने पुरे देश को कॉर्पोरेट कंपनियों की लूट का खुला चरगाह बना दिया है .

पार्टी केन्द्रीय कमिटी सदस्य व बगोदर के पूर्व विधायक का. विनोद सिंह ने कहा कि मोदी जी का सबका साथ सबका विकास का नारा व्यवहार में अपना विकास साबित हुआ . इसलिए कोडरमा की जनता ने इस बार तय कर लिया है देश और झारखण्ड को बचाना है तो भगत सिंह , अम्बेडकर और महेंद्र सिंह के दिखाए रास्ते को आगे बढाना होगा.

भाकपा माले के विधायक राजकुमार यादव ने मोदी शासन द्वारा कोडरमा समेत देश की जनता से किये गए विश्वासघात का हिसाब चुकाने और कोडरमा में जनता की ज़मीनी दावेदारी स्थापित करने के लिए भाकपा माले के साथ मजबूती के साथ खड़े होने की अपील की .

पार्टी के राज्य सचिव ने का. जनार्दन प्रसाद ने कहा कि आज यहाँ उपस्थित जनता का जन सैलाब दिखलाता है कि इस बार लोगों ने तय कर लिया है कि इस बार मोदी राज हटाना है और कोडरमा में माले का लाल झंडा लहराना है .

आदिवासी बुद्धिजीवी मंच के श्री प्रेमचन्द मुर्मू ने वर्तमान भाजपा शासन को देश व झारखण्ड समेत आदिवासियों के लिए सबसे घातक बताते हुए इसके खिलाफ व्यापक एकजुटता पर जोर दिया .

ऑल इंडिया पीपुल्स फोरम ( एआइपीएफ़ ) के बशीर अहमद ने कहा कि इस मुल्क और कोडरमा को यदि बर्बादी की गर्त में जाने से बचाना है तो लाल झंडे की ताक़तों को मजबूत करने की आवश्यकता है. ऐपवा झारखण्ड अध्यक्ष का. गीता मंडल ने कहा मोदी राज का बेटी बचाओ नारे का सच यही है कि सबसे अधिक महिलाओं पर हिंसा इसी शासन में बढ़ी है . यहाँ की सहिया , रसोईया व पारा शिक्षकों को सम्मानजनक वेतन तक नहीं मिल रहा .

जनसभा की अध्यक्षता पार्टी के वरिष्ठ नेता का. उस्मान अंसारी और संचालन इनौस नेता संदीप जायसवाल तथा धन्यवाद ज्ञापन संदीप कुमार ने किया .

सभा को सीपीएम नेता प्रकाश विपल्व , सीपीआई के महेंद्र पाठक , एसयूसीआई के राजीव रंजन के अलावे ऐपवा नेता व जिला पंचायत सदस्य जयंती चौधरी , कौशल्या दास तथा पार्टी के राज्य नेताओं में राजेश यादव , अशोक पासवान , श्यामदेव यादव ,  रामधन यादव , इब्राहीम अंसारी समेत कई अन्य वरिष्ठ नेताओं ने संबोधित किया .

 

चिलचिलाती धूप में तीसियों हज़ार की उपस्थिति वाली रैली की शुरुआत शहीदों के प्रति एक मिनट के मौन व झारखण्ड जनसंस्कृति मंच कि महिला टीम “ प्रेरणा ‘ द्वारा प्रस्तुत जोशपूर्ण जन गीतों तथा छात्र – युवाओं के जोशपूर्ण नारों से हुई .

Related posts

Leave a Comment