मोदी सरकार द्वारा किसानों के साथ धोखाधड़ी के खिलाफ किसानों का “ दिल्ली मार्च ” 29-30 नवम्बर को

अखिल भारतीय किसान महासभा नई दिल्ली. 2014 के लोकसभा चुनाव में वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी पार्टी भाजपा ने देश के किसानों से कर्ज माफी और स्वामीनाथन आयोग की सिफारिश के अनुरूप फसलों का डेढ़ गुना दाम देने का वायदा किया था. यही नहीं उन्होंने देश के लोगों को अच्छे दिन लाने का वायदा भी किया था. पर अपने साढे चार साल के शासन में इस सरकार ने न सिर्फ देश के किसानों के साथ खुला धोखा किया बल्कि अपनी कारपोरेट परस्ती के कारण आज देश को आर्थिक कंगाली…

Read More

‘ मोदी सरकार ने हर मोर्चे पर किसानों और देश की जनता से धोखा किया है ’

  सोनीपत (हरियाणा).  अखिल भारतीय किसान महासभा की राष्ट्रीय परिषद की दो दिवसीय बैठक आज हरियाणा के सोनीपत स्थित सर छोटूराम धर्मशाला में शुरू हुई। बैठक की अध्यक्षता संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष कामरेड रुलदू सिंह ने की। बैठक की शुरुआत करते हुए किसान महासभा के राष्ट्रीय महासचिव कामरेड राजाराम सिंह ने कहा कि मोदी राज में रफाल महा घोटाला और सीबीआई तख्ता पलट की घटनाओं ने साबित कर दिया है कि यह सरकार कानून और संविधान के प्रावधानों का खुला उल्लंघन कर रही है। इस सरकार के रहते देश का…

Read More

किसानों के इस लड़ाकू जज्बे को सलाम

मंदसौर में किसान आन्दोलन के दमन के बाद चले धारावाहिक किसान आन्दोलन के बाद दिल्ली के द्वार पर हुए किसानों के इस दमन ने देश का ध्यान किसानों की पीड़ा की तरफ खींचा है. अभी 28-29 नवम्बर को दिल्ली में कई दिशाओं से किसानों का मार्च और 30 नवम्बर को दिल्ली में होने वाली विराट किसान रैली 2019 के लिए किसानों की निर्णायक भूमिका की जमीन तैयार करेगी. सभी किसान संगठनों और किसान संगठनों के समन्वयों को एकताबद्ध होकर 2019 के लोकसभा चुनावों में इस कारपोरेट परस्त – किसान विरोधी भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकने और मजदूर किसान हितैषी ताकतों को बड़े पैमाने पर संसद में पहुंचाने में अपनी भूमिका निभानी होगी.

Read More

किसानों के साथ ये बर्बरता क्यूँ ?

आँसू गैस के गोले दागता आई.पी.एस. अफसर, किसान पर बंदूक ताने बिना वर्दी का पुलिस कर्मी और डंडा उठाए अकेले किसान पर डंडा ताने आधा दर्जन पुलिस वाले- ये इस प्रदर्शन की वो तस्वीरें हैं, जो मानों संकेत कर रही हों कि सरकार ने किसानों के खिलाफ एक तरह से युद्ध का ऐलान कर दिया है. मेहनतकशों के खिलाफ युद्ध का आगाज, हुकूमत ने किया है, अंजाम तक उसे मेहनतकशों का एकताबद्ध संघर्ष पहुंचाएगा.

Read More

कार्पोरेट के लिए गांवों तक लाल कारपेट बिछाने की नीति से हो रही है खेती-किसानी की तबाही

खेती-किसानी की नीतियों का वर्तमान स्वरूप किसान हितों के प्रतिकूल है। यह नीति खेती-किसानी की कब्र निर्माण के दूषित नीति के साथ पूरा होने को अभिशप्त जान पड़ता है। इसकी बुनियाद रातों-रात नहीं रखी गई है और न यह राष्ट्रीय नीतियों तक सीमित है। इसके पीछे कार्पोरेट से लेकर बहुराष्ट्रीय कम्पनियों की नीति और सत्ता का वर्ग चरित्र कार्य कर रहा है ।

Read More

मोदी सरकार के खिलाफ किसानों का राष्ट्रव्यापी “जेल भरो” आन्दोलन

पुरुषोत्तम शर्मा साम्राज्यवाद विरोधी ‘भारत छोड़ो दिवस’ के मौके पर 9 अगस्त 2018 को नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ देश भर के किसानों का जोशीला ‘जेल भरो आंदोलन’ सफल रहा.  इस राष्ट्रव्यापी विरोध कार्यक्रम में देश भर में लाखों किसान सड़क पर उतरे. किसानों के इस राष्ट्रव्यापी जेल भरो आंदोलन का आह्वान अखिल भारतीय किसान महासभा और अखिल भारतीय किसान सभा ने किया था. यह पहला ऐसा मौका है जब देश भर में किसानों के सवाल पर इतने व्यापक पैमाने पर ‘जेल भरो’ और विरोध कार्यक्रम हुआ है. देश के…

Read More

‘ बलिदान ’ : किसान-जीवन त्रासदी और प्रेमचंद की कहानी कला

मेरी अपनी समझ से हिंदी कहानी में ‘जादुई यथार्थवाद’ कला का भ्रूण इस कहानी में देखा जा सकता हैं ,साथ ही कहानी कला की ऊँचाई और उत्कृष्टता भी. और इसका उपयोग करके प्रेमचंद यह सच्चाई बता जाते हैं कि किसान की आत्मा उसके खेतों में होती है, और उसे किसी छल-बल से उसके हक से वंचित नहीं किया जाना चाहिये.

Read More

कृषि अर्थव्यवस्था पर हमला है गौ रक्षा कानून

देश के जिन राज्यों में भी गौ रक्षा कानून लागू किया गया है मेरे खुद के सर्वे के अनुसार उन राज्यों में गौ-वंश की संख्या दो तिहाई तक कम हो गयी है. इससे देश भर में घाटे की खेती की मार झेल रहे छोटे व मध्यम किसानों के सामने आर्थिक संकट ज्यादा गहरा गया है. हमारे देश में छोटी व माध्यम जोतों की संख्या अस्सी प्रतिशत के करीब है. इसमें भी बहुतायत छोटी जोतों की है. यही कारण है कि यहाँ छोटी खेती या ग्रामीण मजदूरी पर निर्भर हर परिवार…

Read More

संसद के अविश्वास मत से सड़क का अविश्वास मत पड़ेगा मोदी सरकार को भारी

 पुरुषोत्तम शर्मा 20 जुलाई को संसद के अन्दर प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव को भारी मतों से गिराकर विश्वास मत हासिल करने में कामयाब हो गई है. संसद के अन्दर के इस गणित और नतीजे को सत्ताधारी, विपक्ष और देश तथा दुनियां के लोग पहले से जानते थे. इसी लिए सबकी दिलचस्पी सरकार के रहने न रहने में नहीं थी बल्कि इस बात में थी कि 2019 के मई में होने वाले अगले आम चुनावों का एजेंडा क्या होगा जिस पर सभी पार्टियां सदन में…

Read More

मोदी सरकार की नई एमएसपी किसानों के साथ खुला धोखा

नई एमएसपी का गहराई से मूल्यांकन करें तो यह लगभग 15 प्रतिशत की औसत बढोतरी बैठती है. अगर आप मुद्रा स्फीति की बढ़ती दर से इसकी तुलना करें तो हर साल लगभग 4 प्रतिशत की दर से मुद्रास्फीति बढ़ती है. इसका मतलब यह हुआ कि मोदी जी के चार साल के कार्यकाल में ही मुद्रास्फीति की दर जो 16 प्रतिशत बढी उसे ही नई एमएसपी में चालाकी से समायोजित कर दिया गया है.

Read More

विभाजकारी राजनीति के खिलाफ एकताबद्ध आंदोलन की राह पर पश्चिमी उत्तर प्रदेश का किसान

भारतीय किसान यूनियन के बिखराव के बाद अपने-अपने स्तर पर सक्रिय किसान यूनियन के इन ग्रुपों के बीच किसानों की संगठित ताकत को फिर बटोरने पर सहमति बनी है. सभी कार्यकर्ता किसानों के मुद्दे पर संयुक्त रूप से लड़ने और किसानों की एकता को तोड़ने की विभाजनकारी राजनीति को परास्त करने का संकल्प लेते दिखे. यह आज के भारत के किसान आंदोलन के लिए एक अच्छी सीख हो सकती है.

Read More

खेती-किसानी के मौसम में भोजपुर के किसान सड़क पर

भोजपुर के अगिआंव प्रखंड के नहरों में पानी लाने के लिए किसानों के 30 घंटे के जुझारू आंदोलन ने सरकार-प्रशासन को झुका दिया. किसानों के आन्दोलन से 20 वर्ष से सूखी नहरों में पानी आया है.

Read More

गोरखपुर के मानबेला में किसानों पर पुलिस का लाठीचार्ज, महिला का हाथ टूटा

चार महिलाओं सहित सात को पुलिस ने हिरासत में लिया, किसानों ने भी किया पथराव किसानों और कांग्रेस ने पुलिस पर कई राउंड फायरिंग करने का आरोप लगाया गोरखपुर. गोरखपुर के मानबेला में  नौ वर्ष पहले अधिग्रहीत भूमि पर कब्जा करने को लेकर ग्रामीणों व गोरखपुर विकास प्राधिकरण (जीडीए) के बीच चल रही तनातनी शनिवार की शाम हिंसक हो गई। ग्रामीणों का पुलिस से टकराव हुआ। पहले दोनों तरफ से पथराव हुआ और उसके बाद पुलिस ने लाठचार्ज किया जिसमें एक महिला का हाथ टूट गया जबकि एक और व्यक्ति…

Read More